जानें फेफड़े के कैंसर होने की 5 प्रमुख वजह….

धूम्रपान फेफड़े के कैंसर का प्रमुख कारण है। फेफड़े के कैंसर का खतरा महिलाओं की तुलना में पुरुषों को ज्यादा होता है।

0
244
Lung Cancer
जानें फेफड़े के कैंसर होने की 5 प्रमुख वजह...

New Delhi: लंग कैंसर का नाम सुनते ही हर किसी को मौत नजर आने लगती है। हाल के वर्षों में लंग कैंसर (Lung Cancer) के मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। फेफड़े के कैंसर (Lung Cancer Symptoms) का खतरा महिलाओं की तुलना में पुरुषों को ज्यादा होता है। धूम्रपान फेफड़े के कैंसर का प्रमुख कारण है। लगभग 80% फेफड़े के कैंसर से होने वाली मौतें धूम्रपान के कारण होती हैं।

वे लोग जो सिगरेट पीकर कैंसर (Lung Cancer Symptoms) का शिकार बनते हैं, उनमें मरने वालों की संभावना 15 से 30 प्रतिशत अधिक होती है। साथ ही वे लोग जो कैंसर का पता लगने के बाद स्मोकिंग को पूरी तरह से छोड़ देते हैं, वह जल्दक ही रिकवर भी हो जाते हैं। वे लोग जो स्मोककिंग नहीं भी करते हैं, वह अन्यद स्मो कर्स के बीच में रह कर खुद की जान जोखिम में डाल सकते हैं। क्यों कि इस दौरान जब आप उनके पास खड़े हो कर सांस से ले रहे होते हैं, तो शरीर में सिगरेट का धुआं सीधे शरीर के अंदर जाता है।

संजय दत्त को हुआ थर्ड स्टेज का Lung Cancer, वहीं उनकी फिल्म Sadak 2 का ट्रेलर हुआ रिलीज

एक रिसर्च के मुताबिक दुनिया में हर चौथा इंसान सेकंडहैंड स्मोकिंग का शिकार है। वहीं बढ़ते प्रदूषण की वजह से भी दूनिया के बड़े मेट्रो शहर में लंग कैंसर का खतरा दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। आइए जानते है फेफड़े के कैंसर होने की 5 प्रमुख वजह….

1. जब आप सांस लेते हैं, अगर तब कोई सीटी जैसी आवाज सुनाई देती है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें। यह आवाज कई तरह की सेहत समस्याओं की ओर इशारा करती है साथ ही फेफड़ों से जुड़ी समस्या भी।

2. अगर आप गहरी या लंबी सांस लेने में तकलीफ महसूस करते हैं, तो यह अवरोध सीने में तरल पदार्थ के जमा होने के कारण हो सकता है जो फेफड़ों में कैंसर के कारण पैदा होता है।

3.सीने के साथ-साथ पीठ और कंधों में भी आप दर्द महसूस करते हैं, तो इसे गंभीरता से लें। भले ही आप खुद को स्वस्थ महसूस करें, डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

4. 2-3 सप्ताह से अगर सीने में कफ हो रहा है और यह ज्यादा समय तक बना रहता है तो यह संक्रमण हो सकता है। इसके अलावा कफ संबंधी अन्य समस्याएं जैसे थूक में कफ या रक्त होना पर गंभीरता से लें और चेकअप कराएं।

5. फेफड़ों के कैंसर असर बढ़ने पर मस्तिष्क पर भी पड़ सकता है। ऐसी स्थि‍ति में लगातार सिर में दर्द बना रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here