होली पर आसान तरीकों से बनाएं अपने मनपसंद कलर, जानें कैसे करे तैयार

होली के इस त्यौहार में केमिकलों और मिलावट वाले रंग से कैसे बचे। जाने तरीके जिस्से आप घर पर ही तैयार कर सकते हैं अपने रंग।

0
473
Holi Tips in hindi
होली पर आसान तरीकों से बनाएं अपने मनपसंद कलर, जानें कैसे करे तैयार

Happy Holi 2021: होली का त्योहार आ गया है। होली के इस त्यौहार में रंगों की अहम भूमिका होती है। वहीं इस दैरान मार्केट में कई तरह के केमिकलों और मिलावट वाले रंग मिलते हैं। जीसका असर हमारे स्किन (Holi Tips in hindi) पर देखने को मिलता है। अगर होली पर आप ऐसे ही मिलावटी रंगों से बचना चाहते हैं तो हम आपको बता रहे हैं ऐसे तरीके जिस्से आप आसानी से घर पर ही हर्बल कलर्स तैयार कर सकते हैं।

इन टिप्स के साथ बेफिक्र मनाएं रंगों का त्योहार, कैसे करें देखभाल?

घर पर बनाएं हर्बल कलर्स –

  1. जामुनी रंग तैयार करने के लिए चुकंदर को पीसकर इसे छानकर पानी मिलाएं और इसे भिगोकर रख दें। कुछ समय बाद ये गहरा जामुनी रंग देगा जिसका इस्तेमाल आप होली खेलने के लिए कर सकते हैं।

2. हरा रंग बनाने के लिए पालक या मैथी का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसे पीसकर या उबालकर गीला रंग और इसके पेस्ट को सुखाकर अरारोट या चावल के आटे के साथ पाउडर वाला सूखा रंग आसानी से बनाया जा सकता है।

3. नीला गुलाब, जकरांदा के फूलों को सुखाकर नीला रंग तैयार किया जा सकता है। वहीं इन्हें उबालकर या पीसकर आप गीले रंग भी आसानी से बना सकते हैं।

4. काला रंग तैयार करने के लिए काले अंगूर के जूस को पानी में मिलाकर रंग बनाएं। इसके अलावा गहरा या कत्थई रंग तैयार करने के लिए हल्दी पाउडर और बेकिंग सोडा को मिलाकर रंग बनाया जा सकता है।

5. लाल रंग को बनाने के लिए दो छोटे चम्मच लाल चन्दन पावडर को पांच लीटर पानी में डालकर उबाल ले। आपका रंग तैयार हो जाएगा।

6. नारंगी रंग बनाने के लिए आप चंदन के पावडर का इस्‍तेमाल कर सकते है। एक चुटकी चंदन के पावडर में एक लीटर पानी मिला दें

7. पीला रंग तैयार करने के लिए हल्दी सबसे बेहतर है और त्वचा के लिए फायदेमंद भी है। आप इसके गीले और सूखे दोनों रंग तैयार कर सकते हैं।

8. हरसिंगार के फूलों से आप सुंदर सा नारंगी कलर बना सकते है। इसे भी आप को पानी में कुछ घंटों के लिए भिगोकर रखना होगा।

होली से पहले भूलकर भी ना करें ये काम, वरना होगा अशुभ!

हर्बल कलर्स के फायदे

  1. हर्बल कलर्स से होली खेलने पर त्वचा पर किसी भी तरह का कोई भी रिएक्शन नहीं होता।

2. ये रंग इतने सॉफ्ट होते है कि थोड़ी देर बाद कपड़ों पर से भी उड़ जाते है, नतीजतन इससे कपड़े भी खराब नहीं होते।

3. रंग प्राकृतिक होते है और ये बिना साबुन के प्रयोग के सिर्फ पानी से धो लेने से भी तुरंत साफ हो जाते है।

4. रंगों को कोई दुष्प्रभाव नहीं होता तो रिश्तों में भी किसी तरह की कोई खटास नहीं आती।

लाइफस्टाइल से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Lifestyle News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here