बढ़ते शुगर का दुश्मन है मखाना, मोटापा कम करने में भी मुफीद

0
155

Fox Nut: आज के समय में दौड़ धूप भरी ज़िन्दगी में मनुष्य अपनी सेहत का खयाल नहीं रख पाता है। मार्किट में जो भी उपलब्ध होता है चाहे वो कितना भी कोलेस्ट्रॉल से भरा हुआ हो दिल करता है खाने का तो खा लेते हैं। इन्ही गलत खानपान और तनाव के माहौल में कई तरह की बीमारियां जन्म लेने लगती हैं जिनमें कुछ ऐसी होती हैं, जिनका इलाज मिलना मुश्किल है। इनमें मोटापा, मधुमेह, हृदय रोग, स्ट्रोक, उच्च रक्तचाप जैसी प्रमुख बीमारियां आती हैं। इसके अलावा सबसे बड़ी समस्या कोलेस्ट्रोल की है जो आज काफी ज्यादा लोगों में देखने को मिलती है।

हमारे शरीर में दो प्रकार का कोलेस्ट्राल (Cholesterol) पाया जाता है जिसमें पहला है गुड और दूसरा बैड। बैड कोलेस्ट्रॉल के गाढ़ा और चिपचिपा होता है और जब ये शरीर में बढ़ता है तो रक्त संचार में बाधा आती है। इससे उच्च रक्तचाप, हार्ट अटैक आदि का खतरा बढ़ जाता है। इन्ही सब चीज़ों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आपको अपनी डाइट में मखाने को ज़रूर इस्तेमाल करना चाहिए। आइए जानते हैं मखाने क्यों ज़रूरी है ?

आइए जानते क्या मखाना ?

अंग्रेजी में मखाने (Fox Nut) को फॉक्स नट्स कहते हैं। इसे कमल के फूल से प्राप्त किया जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम, कोलेस्ट्रॉल, मैग्नीशियम, फैट और सोडियम पाए जाते हैं। इसके सेवन से उच्च रक्तचाप, मोटापा और दिल की बीमारियों में बेहद आराम मिलता है। बिहार, उत्तर प्रदेश और आसाम में मखाना की सर्वाधिक खेती की जाती है। खासकर, बिहार के मधुबनी जिले में मखाने की खेती बहुत अधिक मात्रा में की जाती है। एक शोध की मानें तो मखाने (Fox Nut) में एंटी-डायबिटिक और एंटी ऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं। इसके लिए मधुमेह के मरीज भी मखाने का सेवन मुफीद सावित होता है। इसके नियमित सेवन से शुगर कंट्रोल में रहता है।

भरपूर मात्रा में पाया जाता है फाइबर

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार मखाने फाइबर (Fiber) उच्च मात्रा में पाया जाता है, जिसे आम भाषा में फैट बर्नर भी कहा जाता है। इसे डेली डाइट में शामिल करने से हमारे शरीर में मौजूद फैट काम होने लगता है और शरीर सुडौल और स्लिम होने लगता है। शरीर के अंदर फैट को नष्ट कर इम्युनिटी बढ़ाने में काफी मदद करता है। अक्सर शुगर के मरीज़ को भूख बहुत ज्यादा लगती है, मखाने में फाइबर (Fiber) की बजह से बार- बार खाने की समस्या से भी निजात मिल जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here