Eye Care Tips: बारिश के मौसम में इस तरह रखें अपने बच्चों की आंखों का ख्याल

आंखों को लेकर लापरवाही बच्चों के मामले में ज्यादा खतरनाक होती है। बच्चों में अगर कम इम्यूनिटी है तो उनमें संक्रमण होने का खतरा अधिक होता है।

0
372
eye care tips

New Delhi: बारिश के मौसम में हम बाहर के खाने से तो परहेज करते ही है साख ही बारिश में भीगने जैसी सावधानियां भी रखते हैं, लेकिन इस दौरान हम अपनी आंखों (Eye Care Tips) को भूल जाते हैं। जबकि मॉनसून अपने साथ उमस लाता है, जो आंखों के संक्रमण का मुख्य कारण है। आंखों को लेकर यह लापरवाही (Eye Care Tips) बच्चों के मामले में ज्यादा खतरनाक होती है। बच्चों में बड़े लोगो की तुलना में कम इम्यूनिटी होने के कारण उनमें संक्रमण होने का खतरा ज्यादा होता है।

इस तेल का इस्तेमाल कर पाएं चमकती त्वचा और लंबे बाल

बच्चों में आंखों (Eye Care Tips) में होने वाले कुछ बिमारीयों में कंजेक्टिवायटिस, स्टाय और आंखों की एलर्जी शामिल हैं। हालांकि इन संक्रमणों के पीछे कई कारण हैं, जिनमें बैक्टीरिया या वायरल संक्रमण जैसे सामान्य सर्दी, फ्लू या यहां तक कि आंखों को बार-बार रगड़ना भी शामिल हैं। इसे लेकर खास सावधानी रखनी चाहिए और बच्चों को समझाने की कोशिश भी करनी चाहिए।

आइए जानते है कुछ जरूरी बाते जो बच्चों की आँखों की देखभाल में मदद करें। 

1. बच्चे का बार-बार हाथ धुलाना चाहिए। बच्चे अनजाने में कई तरह की चीजों को छूते हैं और फिर अपने चेहरे को छूते हैं। इससे भी आंखों में संक्रमण तेजी से होता है। माता-पिता को अपने बच्चों का बार-बार हाथ धोना सिखाना चाहिएष।

2. नियमित तौर पर आंखों की जांच करवानी। (Grooming Tips in Hindi) बच्चों में आंखों के संक्रमण को रोकने का एक दुसरा जरूरी पहलू यह है कि उनकी हर साल नियमित तौर पर नेत्र विशेषज्ञ से जांच करवानी चाहिए। इससे न केवल आंख में किसी भी प्रकार की असामान्यता का पता लगाने में मदद मिलती है, बल्कि भविष्य में बच्चों को आंखों की परेशानी से बचाती है।

3. घर से बाहर सुरक्षा करनी चाहिए। कंजेक्टिवायटिस जैसे संचार वाले संक्रमण एक बच्चे से दूसरे में फैलते हैं। इसे लेकर सतर्क रहें और बच्चों को स्वच्छता का पालन करना सिखाएं। सार्वजनिक स्थानों, पार्क आदि से खेलकर लौटने पर उनके हाथ-मुंह साफ कराएं।

4. सबसे जरूरी चीज यह है कि कोई भी समस्या होने पर विशेषज्ञ से सही उपचार कराएं। एंटीबायोटिक और ल्युब्रिकेंट वाले आई ड्रॉप उपचार में खास मददगार होते है।

यें भी पढ़ें- घुटनों को मजबूत बनाने के लिए अपनाएं ये 5 एक्सरसाइज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here