इन घरेलू तेरीकों से पाएं थायराएड से छुटकारा

वजन कम करने से लेकर थाइराइड तक अश्वगंधा हमारे लिए बहुत ही मददगार साबित होता है। अश्वगंधा को एडापोजेनिक जड़ी-बूटियों की श्रेणी में रखा गया है।

0
392
thyroid

New Delhi: थायराइड (Thyroid) हमारे गले में पाए जाने वाली एक गाँठ होती है, यह तितली के आकार की होती है। यही गाँठ शरीर की कई जरूरी गतिविधियों को नियंत्रित करती है। थाइराइड का काम हमारे शरीर में जाने वाले भोजन को एनर्जी में बदलने का काम करता है। थायराइड गाँठ (Thyroid) टी3 यानी ट्राईआयोडोथायरोनिन (Triiodothyronine t3) और टी4 यानी थायरॉक्सिन (Thyroxine t4) हार्मोंन का निर्माण करती है।

तुलसी के सेवन से पाएं इन बीमारियों से छुटकारा

इसका सीधा असर हमारी सांस, ह्रदय गति, पाचन तंत्र और शरीर के तापमान पर पड़ता है। जब ये हार्मोंस असंतुलित हो जाते हैं, तो वजन कम या ज्यादा होने लगता है, इसे ही थायराइड (Thyroid) की समस्या कहते हैं। ऐसा नहीं है कि इसका इलाज नहीं है, लेकिन कई लोग इसे घरेलू उपचार की मदद से भी ठीक कर लेते हैं।

बता दें कि वजन का लगातार बढ़ना या कम होना, पसीना कम आना, ह्रदय गति का कम होना, याददाश्त कमजोर होना, मांसपेशियों में दर्द और चेहरे पर सूजन नजर आना। यें कुछ ऐसे लक्षण है जिस वजह से थायराएड हो सकता है। आइए जानते हैं कि इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए किन घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Pregnancy Tips: मानसून के महीने में प्रेग्नेंट महिलाएं ऐसे रखें अपना ख्याल

अश्वगंधा

वजन कम करने से लेकर थाइराइड तक अश्वगंधा हमारे लिए बहुत ही मददगार साबित होता है। रिसर्च में पाया गया है कि अश्वगंधा थाइराइड हार्मोन को बढ़ाने में मदद कर सकता है। वहीं, एक वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार अश्वगंधा हाइपो थायराइड के मरीजों के इलाज में काफी मददगार साबित हो सकता है। इसके साथ ही इसका असर व्यक्ति के थाइराइड की स्थिति पर भी निर्भर करता है, इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए कि इसका इस्तेमाल करने से पहले आप डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

रोजमेरी और नारियल का तेल

थाइराइड को ठीक करने के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट का सहारा भी लिया जाता है, जिसकी मदद से आप आसानी से थाइराइड को ठीक कर सकते हैं। इसके लिए आपको रोजमेरी और नारियल तेल का इस्तेमाल करना होगा। आप रोजमेरी तेल को नारियल तेल में मिक्स कर दें और फिर इस तेल को थायराइड के एक्यूप्रेशर पॉइंट पर लगाएं। आप डॉक्टर से सलाह भी ले सकते हैं। आप इन पॉइंट्स पर रोजाना करीब दो मिनट तक मालिश करें। इसके साथ ही रोजमेरी तेल की कुछ बूंदें नहाने वाले पानी में डालकर 15 से 20 मिनट तक उसमें बैठ भी सकते हैं।

लहसुन

हमारे स्वास्थ्य के लिए लहसुन कितना फायदेमंद है ये तो आप सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि थाइराइड के लिए भी लहसुन हमारी काफी मदद करता है। एक रिसर्च के अनुसार, थायराइड में वृद्धि के खिलाफ लहसुन का अच्छा प्रभाव देखा गया है। आपको बता दें कि लहसुन में एलिसिन और फ्लेवोनाइड जैसे कई तत्व पाए जाते हैं, जो थायराइड को ठीक करने के लिए कारगर माने जाते हैं।

घुटनों को मजबूत बनाने के लिए अपनाएं ये 5 एक्सरसाइज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here