इतिहास में पहली बार Delhi Government School का 100 फीसदी रिजल्ट

दिल्ली के 396 सरकारी विद्यालयों (Delhi Government School) में बारहवीं कक्षा का रिजल्ट 100 प्रतिशत रहा है।

0
283
Delhi Government School

New Delhi: दिल्ली के सकारी स्कूलों (Delhi Government School) में पढ़ने वाले 12वीं कक्षा के 98 प्रतिशत छात्र बोर्ड परीक्षाओं में उत्तीर्ण हुए हैं। खास बात यह है कि दिल्ली के 396 सरकारी विद्यालयों (Delhi Government School) में बारहवीं कक्षा का रिजल्ट 100 प्रतिशत रहा है। यानी इन 396 स्कूलों में पढ़ने वाले सभी छात्र उत्तीर्ण हुए हैं।

DU Examination: इस दिन से शुरू होंगे फाइनल ईयर के एग्जाम

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को इन सभी छात्रों (Delhi Government School) को शुभकामनाएं दी। केजरीवाल ने कहा, “ऐसे 2 प्रतिशत छात्र जो 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में पास नहीं हो सके उनके लिए दिल्ली सरकार ने एक्स्ट्रा क्लास लगाने का फैसला लिया है।”

मुख्यमंत्री ने कहा, “भारत के 70 साल के इतिहास में किसी राज्य के सारे सरकारी स्कूलों के नतीजे मिलाकर 98 प्रतिशत रिजल्ट नहीं आया होगा। दिल्ली में प्राइवेट स्कूलों में 12वीं के बोर्ड परीक्षाओं का पास प्रतिशत 92.2 फीसदी रहा है।” दिल्ली के सरकारी स्कूल की बात करें तो प्रतिभा विकास विद्यालय सूरजमल विहार का रिजल्ट 100 रहा है। यहां दो विषय में 100-100 नंबर सहित 98.4 प्रतिशत अंक के साथ कॉमर्स की छात्रा ज्योतिर्मयी ने स्कूल में टॉप किया है। पिछले साल भी इसी स्कूल की छात्रा ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों में कॉमर्स स्ट्रीम में टॉप किया था।

CBSE 10th Result: जानिए कब होगा 10वीं का रिजल्ट घोषित

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, “दिल्ली में बारहवीं तक के 916 सरकारी स्कूल है। इनमें से 897 स्कूलों में 12वीं का रिजल्ट 90 फीसदी से ऊपर रहा है। दिल्ली में 21 राजकीय प्रतिभा विकास विद्यालय हैं। इन प्रतिभा विकास विद्यालय में 99.92 प्रतिशत छात्र 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में उत्तीर्ण हुए हैं।”

इसके अलावा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “एक जमाना था जब लोग कहते थे कि सरकारी स्कूल खराब होते हैं। सरकारी स्कूल के बच्चों को हीन भावना से देखा जाता था। आज इन बच्चों ने साबित किया है कि इंटेलिजेंस पैसे की मोहताज नहीं है। गरीब आदमी भी अपने बच्चे को पढ़ाना चाहता है। आज ये बच्चे आईआईटी, मेडिकल और लॉ जैसे विषयों में दाखिला ले रहे हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here