69000 Shikshak Bharti: शिक्षामित्रों को बड़ा झटका, SC ने खारिज की याचिका

सुप्रीम कोर्ट ने आज यूपी में 69 हजार शिक्षकों की भर्ती के लिए अदालत में शिक्षामित्र एसोसिएशन द्वारा दायर अपील को अस्वीकृत कर दिया।

0
202
69000 shikshak bharti
शिक्षामित्रों को बड़ा झटका, SC ने खारिज की याचिका

New Delhi: सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने आज यानी 18 नवंबर को युपी में 69 हजार शिक्षकों की भर्ती (69000 Shikshak Bharti) मामले पर बड़ा फैसला सुनाया है। इस मामले के संबंध में अदालत ने यूपी शिक्षामित्र एसोसिएशन (Shiksha Mitra Samayojan) द्वारा दायर अपील को अस्वीकृत कर दिया। लेकिन उच्च न्यायालय ने शिक्षा मित्रों को संबंधित परीक्षाओं में भाग लेने का एक आखिरी मौका दिया है।

उत्तर प्रदेश में पुलिस कांस्टेबल पद पर निकली बंपर भर्ति, जानें पूरी प्रक्रिया

सुप्रीम कोर्ट ने फैसले में कहा कि इन शिक्षामित्रों को भर्ती (Shikshak Bharti News) का और मौका अगली भर्ती में दिया जाए। 69 हज़ार शिक्षक भर्ती (69000 Shikshak Bharti) मामले में पहले ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 19 सितंबर को 31661 पदों को एक हफ्ते में भरने का निर्देश दिया था। अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बाकी बचे हुए 37,339 पदों पर भर्ती का रास्ता भी साफ हो गया है। इन पदों पर यूपी सरकार के मौजूदा कट ऑफ 60/65 के आधार पर भर्ती होगी।

उत्तर प्रदेश में प्राथमिक शिक्षकों के रूप में योग्यता प्राप्त करने के लिए लगभग 38 हजार शिक्षा मित्रों को कट-ऑफ अंकों में कोई छूट नहीं मिलेगी। लेकिन सभी शिक्षा मित्रों को परिक्षा फिर से देने का एक और मौका मिलेगा। न्यायालय ने इस मामले की सुनवाई के दौरान यूपी सरकार के हलफनामे को रिकॉर्ड में लिया था। इसमें कहा गया था कि नए कट ऑफ की वजह से नौकरी नही मिलने वाले शिक्षा मित्र को अगले साल सरकार की तरफ से एक मौका दिया जाएगा।

Sarkari Naukri: DMRC में निकली भर्ती, 26 नवंबर तक कर सकेंगे अप्लाई

आपको बता दे, कट ऑफ मामले में छात्रों का कहना था कि ‘परीक्षा के बाद सरकार का कट ऑफ निर्धारित करना सही नहीं है। इससे हमे काफी नुकसान हुआ है।’ 6 मार्च को इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने यूपी सरकार के फैसले को सही बताते हुए शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को 3 महीने के अंदर खत्म करने का आदेश दिया था। लेकिन शिक्षामित्रों ने कट ऑफ (Government Job) को लेकर विरोध किया और इलाहाबाद उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ शीर्ष अदालत में दलील की थी, जिसका फैसले अब सुनाया जा चुका है।

नौकरी से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Job News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here