ये एक्टर बोले- मेरा करियर हो गया था खत्म, OTT ने संभाल लिया

0
157
OTT Platform
मिर्जापुर में इंस्पेक्टर का रोल निभा रहे एक्टर अमित स्याल चर्चा में आ गए है। ओटीटी प्लेटफॉर्म ने करियर में नई उड़ान ला दी है।

Mumbai: सुपर डुपर वेबसीरीज मिर्जापुर में इंस्पेक्टर का रोल निभा रहे एक्टर अमित स्याल (Amit Sial) चर्चा में आ गए है। ओटीटी प्लेटफॉर्म (Mirzapur Series) ने एक्टर अमित के करियर में नई उड़ान ला दी है। अमित फिल्म तितली में भी अपनी जबरदस्त एक्टिंग का प्रदर्शन कर चुके हैं लेकिन उन्हें फिल्मों में ज्यादा चुनौतीपूर्ण किरदार नहीं मिल रहे थे जिसके बाद वे अपने करियर (Mirzapur Series) के बारे में काफी गंभीरता से सोचने लगे थे हालांकि इसी बीच ओटीटी ने दस्तक दी, तब से अमित को अपने करियर की शुरुआत करने का मौका मिल गया। 

चार साल से डिप्रेशन से लड़ रही हैं इरा, वीडियो शेयर कर दी जानकारी

अमित ने कहा कि मेरे लिए अप्रोच काफी सिंपल था, मेरा करियर खत्म हो रहा था। मुझे ऐसी फिल्में नहीं मिल रही थी जिनका मैं हिस्सा होना चाहता था और मुझे जो भी मिल रहा था वो मेरे लिए बिल्कुल भी मर्जी का नहीं था। ओटीटी ने मेरे करियर (Mirzapur Series) को बचाया है। ऐसा मैं इसलिए भी कह सकता हूं क्योंकि मैं हार मानने की स्थिति में था और मैं काफी हद तक ऐसे हालातों में था जहां मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मुझे क्या करना है और कैसे अपने करियर को आगे बढ़ाना है। इसके बाद मुझे इनसाइड एज नाम की वेबसीरीज मिली और इसके बाद मेरा करियर कई मायनों में बेहतर हो गया।

बता दें कि मिर्जापुर से पहले अमित जमतारा, स्मोक, हॉस्टेजेस जैसी वेबसीरीज का भी हिस्सा रह चुके हैं। अमित ने कहा कि मुझे लगता है कि मेरे लिए ये एक अच्छा बदलाव रहा है क्योंकि मैं कई दिलचस्प और चुनौतीपूर्ण किरदार निभाने में कामयाब रहा हूं और मैं अपने करियर और अपनी जिंदगी में ऐसा ही कुछ काम करना चाहता हूं। अमित ने ये भी कहा कि वे ओटीटी प्लेटफॉर्म्स (OTT Platform) को प्राथमिकता देते हैं क्योंकि इस फॉर्मेट में कंटेंट का स्तर काफी बेहतर होता है। 

मुन्ना भैया बदलेंगे नियम, गुड्डू भैया के बदले से दहलेगा मिर्ज़ापुर

उन्होंने ओटीटी प्लेटफॉर्म और फिल्मों के बीच के अंतर पर कहा कि किसी भी वेबसीरीज (OTT Platform) में कहीं ना कहीं उतनी ही लगन और मेहनत लगती है जितनी किसी फिल्म में लगती है और ऐसा नहीं है कि ओटीटी का कंटेंट किसी भी मायने में फिल्मों से कम होता है। ये फॉर्मेट अलग है लेकिन किसी भी ओटीटी प्रोजेक्ट में फिल्म की तरह ही काफी काम करना होता है। आने वाले वक्त में फिल्में ओटीटी प्लेटफार्म में ही रिलीज होंगी , ऐसे में दोनों के बीच अंतर कम होता जा रहा है। 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here