Nepotism In Bollywood: आलिया और रणबीर की एक्टिंग पर इस फिल्म मेकर ने दिया बड़ा बयान

आर बाल्की ने माना कि स्टार किड्स को पहली बार पर्दे पर काम करने के लिए एडवांटेज मिलता है। लेकिन उन्होंने ये भी कहा कि आलिया भट्ट और रणबीर कपूर बेहद टैलेंटेड हैं और उनके जैसा कोई नहीं है।

0
401
Nepotism In Bollywood

Mumbai: सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही स्टार किड्स को नेपोटिज़्म (Nepotism In Bollywood) के नाम पर काफी ट्रोल किया जा रहा है। जिसमें आलिया भट्ट, सोनम कपूर, सोनाक्षी सिन्हा जैसे कई स्टार किड्स एक्टर शामिल है। कई स्टार्स ने इस मुद्दे (Nepotism In Bollywood) पर अपनी चुप्पी भी तोड़ी लेकिन आलिया भट्ट (Alia And Ranbir) अब तक खामोश हैं।

Sushant Singh Rajput Case: रिया चक्रवर्ती ने मांगी सीबीआई जांच, गृहमंत्री से की अपील

इंडस्ट्री में नेपोटिज्म (Nepotism In Bollywood) को लेकर बहस छिड़ी हुई है। इसे लेकर इंडस्ट्री दो धड़ों में बंटी हुई है। जहां एक पक्ष ये कहता दिख रहा है कि इंडस्ट्री में नेपोटिज्म है तो वहीं, दूसरा पक्ष का कहता है कि ये सिर्फ इस इंडस्ट्री में नहीं बल्कि हर एक इंडस्ट्री में मौजूद है। अब नेपोटिज्म पर फिल्म मेकर आर बाल्की का भी बयान सामने आय है जिसमें उन्होंने आलिया भट्ट और रणबीर कपूर (Alia And Ranbir) को सपोर्ट करते हुए उन्हें बेहतर एक्टर बताया है।

Alia And Ranbir

फिल्म मेकर आर बाल्की ने नेपोटिज्म को लेकर कहा है कि, ”इसे नकारा नहीं जा सकता। ये हर जगह है और हर इंडस्ट्री में है। महिंद्रा, अंबानी और बजाज के बारे में सोचो क्या वो अपना बिजनेस किसी और को देंगे? क्या कोई ये कहेगा कि मुकेश अंबानी को अपना बिजनेस नहीं चलाना चाहिए बल्कि किसी और को दे देना चाहिए। समाज में ये हर जगह है। सब्जी वाला और ऑटो वाला भी अपना बिजनेस अपने बच्चों को ही देकर जाता है.”

कंगना रनौत की टीम ने महेश भट्ट पर लगाया ये संगीन आरोप

इसके बाद उन्होंने आलिया और रणबीर की बात करते हुए कहा है कि, “मैं सिंपल सा सवाल पूछता हूं, मुझे आलिया और रणबीर से बेहतर एक्टर लाकर दे दो, फिर मैं इस पर बहस करूंगा। किसी भी अच्छे अभिनेता को लेकर इस तरह की बात करना कि वो सिर्फ स्टार किड होने की वजह से यहां है, सही नहीं है.”

आगे उन्होंने कहा की इस बात को समझिए कि ऑडियंस को बिना टैलेंट वाल कोई भी स्टार पसंद नहीं है। कभी-कभी ऑडियंस ख़ुद भी स्टार किड्स को ही पर्दे पर देखना चाहते हैं। उन्हें पहला मौका मिलता है और आगे की महेनत उन्हें भी ख़ुद करनी पड़ती है। मैं इस बात से सहमत हूं कि आउटसाइडर को फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। लेकिन टैलेंट से मौका मिलता है’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here