कोरोना महामारी के कारण 13 साल पीछे पहुंचा बॉक्स ऑफिस कलेक्शन

2020 के अब 11 महीने बीत चुके है कोरोना महामारी का ये साल बॉक्स ऑफिस के लिए इतना बदतर साबित हुए हैं की यह 13 साल पीछे चला गया।

0
259
Box Office Collection 2020
कोरोना महामारी के कारण 13 साल पीछे पहुंचा बॉक्स ऑफिस कलेक्शन

New Delhi: कोरोना वायरस महामारी ने पूरी दुनिया में तहलका मचा कर रखा हुआ है। एक तरफ जहां लाखों लोगों ने इस वायरस (Corona Virus) के चलते अपनी जान गवाई वहीं दूसरी तरफ देश के व्यवसाय में भी लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 2020 के अब 11 महीने बीत चुके है अब 2021 आने में महज 1 महीने का ही समय बचा हुआ है। कोरोना महामारी का ये साल बॉक्स ऑफिस (Box Office Collection) के लिए इतना बदतर साबित हुए हैं की यह 13 साल पीछे चला गया।

Mumbai Diaries 26/11 की पहली झलक, सामने आएंगी अनसुनी कहानियां

कोविड-19 की वजह से मार्च में लॉकडाउन लग गया था। अन्य व्यवसाय की तरह ही फिल्म व्यवसाय भी ठहराव पर आ गया था। वहीं अनलॉक होने के बाद दूसरे व्यवसाय तो रफतार में आग गए लेकिन सिनेमाघर खुलने के एक महीने बाद भी ट्रैक पर नहीं आ पाए हैं। ट्रेड एनालिस्ट और 40 सालों से डिस्ट्रीब्यूशन सक्रिय राज बंसल की मानें तो इस साल कोरोना की वजह से बॉक्स ऑफिस को 1800 से 2000 करोड़ रुपए का घाटा हो गया है।

ऐसा देखा गया है की 2020 का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन 2007 (Box Office Collection) के बराबर ही रह गया है। इस साल सिनेमाघरों में रिलीज हुईं सभी छोटी-बड़ी फिल्मों ने जनवरी से नवंबर तक करीब 826 करोड़ रुपए का कलेक्शन ही किया है और 2007 में नवंबर तक का कलेक्शन लगभग 819 करोड़ रुपए का ही हुआ था। कोरोना के कारण सबसे बड़ा घाटा सिनेमाहॉल मालिकों को हुआ है।

करण ने फिल्ममेकर से मांगी माफी, कहा- परेशान करने का नही था इरादा

एक्टर्स का घाटा यह हुआ है कि उनकी फिल्में कम हो गईं है, और शूटिंग के दिन घट गए है। बता दें कि 7 महीने की बंदी के बाद सिनेमाघरों को 15 अक्टूबर से खोल दिया गया था। तब से अब तक कुछ एक महीने से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। लेकिन, बॉक्स ऑफिस में अभी भी कोइ कलेक्शन नहीं हो रहा। इसकी सबसे बड़ी वजह नई फिल्मों का रिलीज न होना है। राज बंसल ने कहा जब पुरानी फिल्में ओटीटी प्लेटफॉर्म्स (OTT Platform) पर मुफ्त में उपलब्ध हैं तो फिर कोई क्यों अपनी जिंदगी का रिस्क लेकर टिकट खरीदकर इन्हें सिनेमाघरों में देखेगा।

बंसल आगे कहते हैं, “मेकर्स को नुकसान नहीं है। अगर है भी तो बहुत कम है। क्योंकि वे अपना पैसा सैटेलाइट राइट बेचकर और फिल्मों को डिजिटली बेचकर निकाल रहे हैं। यशराज और रिलायंस जैसे प्रोडक्शन हाउस सिनेमाघरों के साथ खड़े हैं। क्योंकि वे जानते हैं कि अगर वे साथ खड़े नहीं होंगे तो इंडस्ट्री चरमराकर खत्म (Bollywood Industry) हो जाएगी। उनका साथ खड़ा होना बहुत बड़ी बात है।”

BMC देगा कंगना रनौत को मुआवजा, Bombay High Court ने लगाई फटकार

बता दें कि कई स्टार की फिल्में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर दी गई हैं, जैसे अमिताभ बच्चन, आयुष्मान खुराना की ‘गुलाबो सिताबो’, विद्या बालन स्टारर ‘शकुंतला देवी’, जाह्नवी कपूर स्टारर ‘गुंजन सक्सेना : द कारगिल गर्ल’, संजय दत्त स्टारर ‘सड़क 2’, अक्षय कुमार स्टारर ‘लक्ष्मी बॉम्ब’ वहीं इनके अलवा कई अन्य फिल्में ओटीटी पर रिलीज होने के लिए तैयार भी हैं। कई फिल्मों को कोरोना के चलते अगले साल तक के लिए टाल दिया गया है जैसे अमिताभ बच्चन, रणबीर कपूर और आलिया भट्ट स्टारर ‘ब्रह्मास्त्र’ और आमिर खान स्टारर ‘लाल सिंह चड्ढा’।

मनोरंजन से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Entertainment News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here