Agnipath Scheme Age Limit: केंद्र सरकार का ‘Back Foot Step’ अग्निपथ योजना की उम्र सीमा बढ़ाकर अब 21 से 23 साल की गई

0
94
Agnipath Scheme Protest

Agnipath Scheme Age Limit: देशभर में युवाओं के बवाल के बाद बैकफुट पर आ चुकी केंद्र सरकार (GOI) ने अपने फैसले को लेकर बड़ा यूटर्न लिया है. केंद्र सरकार ने दो साल से कोरोना के कारण सेना भर्ती न होने से उम्र पार कर चुके युवाओं को बड़ी राहत दी है. ऐसे युवा अब ‘अग्निपथ भर्ती योजना’ के तहत सेना में भर्ती हो सकेंगे. दरअसल सरकार ने इस योजना के तहत उम्मीदवारों की आयु सीमा 21 साल से बढ़ाकर 23 साल कर दी है. अभी तक भर्ती के लिए सरकार ने साढ़े 17 साल से लेकर 21 साल तक की आयु निर्धारित की थी. हालांकि सरकार ने उम्र की ये सीमा केवल इस साल के लिए बढ़ाई है. मालूम हो कि पिछले दो साल से सेना में भर्ती नहीं हो रही थी. इसलिए सरकार ने सेना में भर्ती की तैयारी कर रहे 23 साल तक की आयु वाले युवाओं को अग्निपथ योजना के तहत ये मौका दिया है.

देशभर में अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन

सेना में भर्ती के लिए नई योजना ‘अग्निपथ’ को लेकर देश के तमाम हिस्सों में बवाल देखने को मिला है। आकांक्षी युवाओं ने ट्रेनों में आग लगा दी, बसों की खिड़कियों के शीशे तोड़ दिए और बिहार में सत्तारूढ़ भाजपा के एक विधायक सहित राहगीरों पर पथराव किया। युवाओं का यह विरोध प्रदर्शन लगातार दूसरे दिन भी जारी रहा। योजना को लेकर जताई जा रही चिंताओं को दूर करने के लिए ‘मिथक बनाम सच’ दस्तावेज जारी करने के अलावा, सरकार की सूचना प्रसार शाखा ने सोशल मीडिया कई पोस्ट भी किये, जिनमें कहा गया कि आने वाले वर्षों में, अग्निवीरों की भर्ती सशस्त्र बलों में वर्तमान भर्ती से लगभग तिगुनी होगी और रेजिमेंट प्रणाली में किसी भी बदलाव से इनकार किया।

योजना के विरोध में पलवल में भड़की हिंसा

मोदी सरकार की अग्निपथ योजना के खिलाफ देश के कई राज्यों में आज जोरदार प्रदर्शन देखे गए, इनमें से कई प्रदर्शन हिंसक भी हो गए। अग्निपथ योजना को लेकर हरियाणा के पलवल में भी हिंसा हुई। पलवल में हुए बवाल पर तीन जिलों से पुलिस बुलानी तब जाके हालात काबू में आए। इतना ही नहीं पलवल में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर भी पथराव किया। डीसी कार्यालय में भी तोड़फोड़ की है। पलवल में हुई हिंसा को देखते हुए जिले में इंटरनेट सेवाओं को अगले 24 घण्टे के लिए बंद करना पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here