पुजारी की हैवानियत की शिकार हुई महिला, 50 हजार का इनाम घोषित

यूपी के बदायूं में 50 साल की महिला के साथ पहले गैंगरेप GangRape in UP हुआ उसके बाद उसे मौत के घाट उतार दिया गया।

0
189
GangRape in UP
यूपी के बदायूं में 50 साल की महिला के साथ पहले गैंगरेप GangRape in UP हुआ उसके बाद उसे मौत के घाट उतार दिया गया।

Uttar Pradesh: यूपी के बदायूं में 50 साल की महिला के साथ पहले गैंगरेप (GangRape in UP) हुआ उसके बाद उसे मौत के घाट उतार दिया गया। राज्य सरकार ने आरोपी पुजारी को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी पर यूपी सरकार ने 50 हजार का इनाम घोषित किया है। मुख्यमंत्री योगी ने मामले को संज्ञान में लेते हुए कड़ी कार्रवाई के निर्देश (GangRape in UP) दे दिए है। 

10वीं के छात्र ने क्लासमेट पर दागी गोली, सीट को लेकर हुआ था विवाद

जानकारी के अनुसार, गैंगरेप (GangRape in UP) के दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी महंत की भी गिरफ्तारी हो गई है। उन्होंने बताया आरोपियों पर एनएसए के तहत कार्रवाई भी की जाएगी। आरोपी के खिलाफ फास्ट ट्रैक में मुकदमा चलाया जाएगा, जिससे दोषी को जल्द से जल्द सजा मिल जाए।

महिला के बेटे में इंटरव्यू देते हुए कहा कि “वे लोग मां को अपनी गाड़ी में लाकर यहां छोड़ गए। यहां पहुंचने तक वह मर चुकी थीं। पुजारी और अन्य (Uttar Pradesh News) लोगों ने उन्हें दरवाजे पर गिरा दिया और जल्दी से छोड़कर भाग गए।” साथ ही कहा कि “मेरी मां रोज पूजा करने के लिए वहां जाती थी। रविवार को वो शाम पांच बजे के करीब पूजा करने गई थीं। वे लोग उन्हें रात के 11.30 बजे के करीब फेंक गए।” 

फर्जी कॉल सेंटर का हुआ पर्दाफाश, भारत में बैठकर अमेरिका में की ठगी

क्या है मामला-

यूपी के बदायूं जिले के उघैती में पूजा करने गई 50 वर्षीय आंगनबाड़ी सहायिका की गैंगरेप (Uttar Pradesh News) के बाद हत्या कर दी गई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला के गुप्तांग में रॉड जैसी कोई चीज डालने का मामला सामने आया था। इससे पहले महिला की मौत की वजह ज्यादा रक्तस्राव और सदमा लगने की वजह से आई थी। जिसके बाद पुलिस पर सवाल उठने लगे।

यूपी के बदायूं जिले में महिला से गैंगरेप के बाद हुय हैवानियत (GangRape in UP) के मामले पुलिस रात भर आरोपियों की तलाश में जुटी रही। पुलिस ने महंत के चेले और ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया। मामले में इंस्पेक्टर रावेंद्र प्रताप सिंह की लापरवाही सामने आई है। इस मामले में एसपी देहात सिद्धार्थ वर्मा और सीओ बिल्सी अनिरुद्ध सिंह जांच रिपोर्ट के आधार पर एसएसपी ने थानेदार को निलंबित कर दिया। 

क्राइम से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Crime News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here