NIC के डाटा पर हुआ साइबर अटैक, सारी जानकारियां हुई गायब!

एनआईसी पर साइबर अटैक होने की जानकारी मिली है। जानकारी के अनुसार, ये साइबर अटैक बेंगलुरु बेस्ड एक फर्म द्वारा किया गया है।

0
378
Cyber Attack On NIC
NIC के डाटा पर हुआ साइबर अटैक, क्लिक करते ही सारी जानकारियां हुई गायब

New Delhi: भारत की सबसे बड़ी डाटा एजेंसी राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (National Information Centre) पर साइबर अटैक होने की जानकारी मिली है। इस साइबर हमले (Cyber Attack) को काफी खतरनाक माना जा रहा है। जानकारी के अनुसार, ये साइबर अटैक (Cyber Attack On NIC) बेंगलुरु बेस्ड एक फर्म द्वारा किया गया है, जिसके तार USA से जुड़ रहे हैं। NIC की शिकायत पर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया।

गूगल ने Paytm को प्ले स्टोर से हटाया, जानें क्या है वजह

फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच चल रही है । बताया जा रहा है कि इस साइबर हमले के जरिए एनआईसी (Cyber Attack On NIC) के कई कम्प्यूटरों को टारगेट किया गया और संवेदनशील जानकारियों को हैक कर लिया गया। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को मिली जानकारी के अनुसार, एनआईसी के सिस्टम्स पर ई-मेल के जरिए मालवेयर भेजा गया। इसमें एक लिंक पर क्लिक करते ही तमाम जानकारियां गायब हो गई।

नेशनल इन्फॉर्मेटिक्स सेंटर (NIC) में पीएम, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) सहित राष्ट्रीय हित से संबंधित जानकारियां होती हैं। NIC के डाटा बेस में राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित जानकारियों के साथ देश के प्रधानमंत्री और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार समेत तमाम भारतीयों का डाटा रखता है। इस संस्था के पास भारत की तमाम विशिष्ट जानकारियां होती हैं जो देश के लिए बहुत उपयोगी होने के साथ ही संवेदनशील भी होती है।

Happiest Minds Technologies की शानदार शुरुआत, एक ही दिन में पैसे हुए डबल

बता दें कि एनआईसी के एक सरकारी कर्मचारी ने हाल ही शिकायत की थी कि उसे अपना ईमेल खोलने में परेशानी हो रही है। कई हफ्तों से वह इस्तेमाल में भी नहीं हुआ था। तब एनआईसी को पता चला कि उस पर कोई साइबर हमला हुआ है जो एक तरीके से नियमित रूप में होने वाली प्रक्रिया है। बाद में एनआईसी ने अपने साइबर सुरक्षा के सिस्टम के जरिए उस परेशानी का पता लगा लिया।

इससे पहले एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि चीन की कुछ कंपनियां करीब दस हजार भारतीयों पर जासूसी कर रही हैं। इनमें प्रधानमंत्री मोदी से लेकर तमाम केंद्रीय मंत्री, खिलाड़ी, अभिनेता समेत कई वीआईपी शामिल हैं। चीनी कंपनी इन सभी लोगों की हर गतिविधि पर नजर रखे हुए थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here