कौन है अंशु दीक्षित, मुकीम काला और मेराजुद्दीन? पढ़े चित्रकूट जेल की कहानी

मुकीम काला और मेराजुद्दीन की हत्या हुई Chitrakot Jail Encounter है। साथ ही अंशुल दीक्षित का एनकाउंटर हुआ है।

0
565
Chitrakot Jail Encounter
मुकीम काला और मेराजुद्दीन की हत्या हुई Chitrakot Jail Encounter है। साथ ही अंशुल दीक्षित का एनकाउंटर हुआ है।

Uttar Pradesh: चित्रकूट (Chitrakoot Jail Encounter) जेल में कैदियों के बीच ताबड़तोड़ गोलियां चली। इसमें मुकीम काला (Mukim Kala) और मेराजुद्दीन (Merajuddin) की हत्या हुई है। साथ ही अंशुल दीक्षित का एनकाउंटर हुआ है। सवाल ये उठता है कि आखिर जेल में असलहा और गोलियां पहुंची कैसे। यानी कहा जा सकता है कि इस मामले में प्रशासन की लापरवाही रही है ! क्या हर बार इन खतरनाक बदमाशों के बीच पुलिस प्रशासन जुड़ा होता या इन बदमाशों को पुलिस का डर नहीं है ? 

बदमाश मुकीम और मेराजुद्दीन की हत्या, पुलिस एनकाउंटर में बदमाश ठेर

क्या है पूरा मामला

अंशु दीक्षित (Anshu Dixit) ने शुक्रवार सुबह 10 बजे मुकीम काला और मेराज अली को मारने के लिए 5 कैदियों को बंधक बना (Chitrakoot Jail Encounter) लिया। पुलिसस ने सभी को छोड़ने के लिए कहा, लेकिन अंशु के मने में पुलिस का खौफ नहीं दिखाई दिया। आखिरकार वह पुलिस की गोली का शिकार बन गया। ये तीनों कैदी बेहद खतरनाक अपराधी थे। इन तीनों ने कई परवारों को बेघर किया है और मासूमों को भी अपने परिवार से अलग किया है।

कौन है अंशु दीक्षित

अंशुल दीक्षित (Anshu Dixit) लखनऊ विश्वविद्यालय में पड़ता था। इस दौरान अपराधियों के संपर्क में आने लगा था। यूनिवर्सिटी के पूर्व महामंत्री विनोद त्रिपाठी का बहुत पुराना साथी रहा, लेकिन बाद में उसकी हत्या कर दी। 2008 में गोपालगंज से पकड़ा गया था। अंशु को 2014 में गोरखपुर से गिरफ्तार किया था। ये यूपी का खतरनाक बदमाशों में से माना जाता है। जिस वक्त अंशु दीक्षित पहली बार पुलिस के हत्थे चड़ा था उस वक्त सीएमओ विनोद आर्या की हत्या की थी। एसटीएफ ने बदमाश के कब्जे से एक पिस्टल, एक तमंचा, कारतूस और फर्जी आईडी प्रूफ बरामद किया था। 

उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामलों में आई कमी, मौतों के आकड़ों में हुई बढ़ोतरी

कौन है मुकीम काला

मुकीम काला (Mukim Kala) पर 61 आपराधिक मामले चल रहे (Chitrakoot Goli Kand)  थे। पुलिस की माने तो वेस्‍ट यूपी के कैराना में पलायन का मुख्य आरोपी मुकीम काला था। मुकीम काला ने पहली वारदात हरियाणा के पानीपत में एक मकान में डकैती के रूप में अंजाम दी। इसके बाद उसे जेल भेज दिया गया। मुकीम काला का खौफ वेस्ट यूपी के अलावा हरियाणा के पानीपत और उत्तराखंड के देहरादून में भी फैला हुआ था। ये पूरी तरह से तब पकड़ में आया जब इसने पुलिस पर हमला करना शुरु कर दिया।

मुख्तरा अंसारी से कनेक्शन

वारदात में मारा गया अपराधी मेराजुद्दीन, बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) का करीबी था। मुकीम काला को 7 मई 2021 को चित्रकूट जेल लाया गया था। जबकि अंशू दीक्षित को दिसंबर 2019 में चित्रकूट जेल (Chitrakoot Goli Kand) लाया गया था। 

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. YouTube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here