यूपी में सुरक्षा के बीच हुआ अंतिम संस्कार, मुख्य आरोपी हुआ गिरफ्तार

बलिया केस में अब राजनितीक रंग ले लिया है। मामले में मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह सहित 6 नामजद आरोपी अभी भी फरार है।

0
158
Ballia Death Case
बलिया केस में अब राजनितीक रंग ले लिया है। मामले में मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह सहित 6 नामजद आरोपी अभी भी फरार है।

Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश के बलिया में हत्या के मामले ने अब राजनितीक रंग ले लिया है। मामले में मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह (Dheerendra Singh) को गिरफ्तार कर लिया गया है। बता दें नामजद पुलिस ने 8 नामजद और 25 अज्ञात लोगों पर एफआईआर (Dheerendra Singh) दर्ज की है। पुलिस की 10 टीमें लगातार आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही हैं। उधर शनिवार को मृतक जयप्रकाश का अंतिम संस्कार हो गया। 

CBI ने पीड़िता के तीन भाईयों को भेजा समन, फिर होगी पूछताछ

कड़ी सुरक्षा के बीच मझवा घाट पर अंतिम संस्कार हुआ। जनाकरी के अनुसार सभी आरोपियों पर 75-75 हजार रुपये का ईनाम घोषित किया गया है। एनएसए, गुंडा एक्ट और गैंगेस्टर (Dheerendra Singh) के तहत भी कार्रवाई होगी। आरोपियों की संपत्ति भी जब्त की जाएगी। किसी तरह का कोई दबाव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस घटना में यूपी पुलिस पूरी तरह सख्ती में दिखाई दे रही हैं।

बता दें इस मामले में अभी 2 नामजद समेत 7 लोग गिरफ्तार (Ballia Death Case) हुए हैं। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के भाई देवेंद्र प्रताप सिंह को शुक्रवार सुबह ही गिरफ्तार कर लिया था। वहीं शाम को पुलिस ने दूसरे भाई नरेंद्र प्रताप सिंह को गिरफ्तार (Ballia Death Case) कर लिया। ये दोनों भी नामजद आरोपी हैं। 

स्वामी चिन्मयानंद रेप केस में ट्विस्ट, आरोप लगाने वाली लॉ छात्रा बयान से पलटी

आरोपी धीरेंद्र सिंह ने कहा- मैंने गोली नहीं चलाई
धीरेंद्र ने कहा है कि किसकी गोली से घटनास्थल पर मौत हुई, वह नहीं जानता लेकिन वह बेगुनाह है और उसने गोली नहीं चलाई है। पुलिस ने गोलीकांड (Ballia Death Case) के अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कई स्थानों पर छापेमारी की लेकिन मुख्य आरोपी को पकड़ने में सफलता नहीं मिली। इस मामले में पुलिस अब तक मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के दो भाइयों देवेंद्र प्रताप सिंह और नरेंद्र प्रताप सिंह को ही गिरफ्तार कर सकी है।

बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि इंसाफ की लड़ाई में हम बिल्कुल (Ballia Death Case) अकेले हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के अधिकारी हम लोगों की बात का भरोसा नहीं कर रहे हैं। अगर इस मामले में दूसरे पक्ष की तहरीर पर मुकदमा दर्ज नहीं किया जाएगा तो वह सड़क पर उतरेंगे और सत्याग्रह का रास्ता अपनाएंगे। सुरेंद्र सिंह ने कहा कि वह आमरण अनशन करने की तैयारी में है। 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here