शबनम के बेटे ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र, कहा- अंकल मेरी मां…

शबनम के 13 साल के बेटे ताज ने राष्ट्रपति के नाम एक पत्र लिखा है, जिसमें उसने अपनी मां के लिए माफी की गुहार लगाई है।

0
709
Amroha Murder Case
शबनम के बेटे ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र, कहा- अंकल मेरी मां...

Uttar Pradesh: फांसी की सजा मिलने के बाद शबनम और सलीम ने राष्ट्रपति के समक्ष दया याचिका लगाई थी, जिसे खारिज कर दिया (Amroha Murder Case) गया है। ऐसे में अब उसका फांसी पर लटकना तय है। ये फैसला राष्ट्रपति (Ram Nath Kovind) की तरफ से लिया गया है। वहीं, अब शबनम के 13 साल के बेटे ताज ने राष्ट्रपति के नाम एक पत्र लिखा है, जिसमें उसने अपनी मां के लिए माफी की गुहार लगाई है।

पहली बार होगी किसी महिला को फांसी, जानिए खूनी इश्क की दास्तां

शबनम के बेटे ताज ने अपने पत्र में कहा कि, ‘राष्ट्रपति अंकल जी, मेरी मां को माफ कर दो।’ शबनम के बेटे को बुलंदशहर के सुशील विहार कॉलोनी में रहने वाले पत्रकार उस्मान सैफी ने गोद लिया था। शबनम का बेटा अब 13 साल का हो चुका है। ताज का कहना है कि उसने राष्ट्रपति से मां शबनम को माफ करने गुहार लगाई है।

बता दें 14 अप्रैल, 2008 की रात प्रेमी सलीम के साथ मिलकर शबनम ने माता-पिता और मासूम भतीजे समेत परिवार के सात लोगों को मौत के घाट (Amroha Murder Case) उतार दिया था। शबनम (Shabnam) को मथुरा जेल में फांसी दी जाएगी और आजादी के बाद वो पहली महिला होंगी जिन्हें फांसी पर लटकाया जाएगा। हालांकि इससे पहले सीरियल किलर रेणुका शिंदे और सीमा गावित को 31 अगस्त, 2006 में फांसी की सजा सुनाई गई थी लेकिन अभी तक फांसी नहीं दी गई है।

क्राइम से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Crime News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here