Sugar Export Ban: गेहूं के निर्यात पर रोक के बाद क्या अब चीनी की आएगी बारी?

0
148

Sugar Export Ban: पहले गेहूं के निर्यात पर प्रतिबंध लगा और अब भारत सरकार चीनी के निर्यात पर प्रतिबंध लगाने की तैयारी कर रही है। इसके पीछे की वजह है महंगी होती चीनी। चीनी की कीमतों में बढ़ोतरी के कारण भारत सरकार इसके निर्यात को बैन करने के बारे में विचार कर रही है। रायटर्स के हवाले से एक रिपोर्ट में इसका दावा किया गया है।

घरेलू कीमतों में बढ़तोरी के कारण फैसला संभव

रिपोर्ट से मिली जानकारी के मुताबिक घरेलू कीमतों में तेजी से हो रही बढ़ोतरी को काबू करने के लिए सरकार चीनी के निर्यात पर प्रतिबंध लगाने का विचार कर रही है। अगर चीनी की मांग को देखते हुए भारत सरकार इसके निर्यात पर रोक नहीं लगाएगी तो इस सीजन में चीनी के निर्यात को सीमित करने पर फैसला संभव है।

भारत में होता है चीनी का सबसे ज्यादा उत्पादन

रिपोर्ट के मुताबिक इस सीजन में भारत सरकार पर चीनी के निर्यात (Sugar Export Ban) को 10 मिलियन टन तक सीमित करने का फैसला ले सकती है। आपको बता दें कि दुनिया में सबसे ज्यादा चीनी का उत्पादन भारत में होता है। लेकिन निर्यात करने के मामले में भारत दूसरे नंबर पर आता है, जबकी पहले नंबर पर ब्राजील आता है।

18 मई तक 75 लाख टन चीनी का निर्यात

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक सितंबर में समाप्त होने वाले चालू विपणन वर्ष में 18 मई तक भारत ने 75 लाख टन चीनी का निर्यात किया है। साल 2020-21 में 70 लाख टन निर्यात हुआ है। साल 2017-18 में 6.2 लाख टन निर्यात हुआ है। साल 2018-19 में 38 लाख टन और 2019-20 में 50.60 लाख टन का निर्यात हुआ है।

किस जगह होता है सबसे ज्यादा चीनी का उत्पादन

भारत से चीनी का सबसे बड़े खरीदार इंडोनेशिया, श्रीलंका, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, संयुक्त अरब अमीरात, मलयेशिया के अलावा अफ्रीकी देश हैं। भारत में 80% चीनी का उत्पादन उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और कर्नाटक में होता है. बिहार, गुजरात, आंध्रप्रदेश, ओड़िशा, मध्यप्रदेश, तमिलनाडु, हरियाणा और पंजाब में होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here