रिलायंस का हुआ बिग बाजार, 24713 करोड़ में फाइनल हुई डील

रिटेल वेंचर्स लिमिटेड ने शनिवार को फ्यूचर ग्रुप के रिटेल, होलसेल बिजनेस, लॉजिस्टिक्स और वेयरहाउस बिजनेस के अधिग्रहण की घोषणा की है।

0
219
Reliance Acquire Future Group
रिलायंस के हाथों बिक गया बिग बाजार, 24713 करोड़ में फाइनल हुई डील

New Delhi: मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani)  की रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रीटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) ने शनिवार को प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि वह फ्यूचर ग्रुप (Future Group) की रीटेल ऐंड होलसेल बिजनस और लॉजिस्टिक्स ऐंड वेयरहाउसिंग बिजनस (Reliance Acquire Future Group) के अधिग्रहण की घोषणा की। यह डील 24713 करोड़ में फाइनल हुई है। इस डील के बाद भारत के रीटेल बिजनस में रिलायंस बेताज बादशाह बन गई है।

AGM बैठक में हुए ये बड़े ऐलान, अब 2-G मुक्त बनेगा भारत

कोरोना के चलते फ्यूचर ग्रुप कंपनी की वित्तीय हालत (Reliance Acquire Future Group) खराब हो गई थी। लॉकडाउन के दौरान ज्यादातर स्टोर्स को बंद करना पड़ा था। फ्यूचर ग्रुप के सभी तरह के स्टोर्स की संख्या 1650 से भी अधिक है। और हजारों लोगों को यहां रोजगार मिला था। कर्ज बढ़ने से कंपनी के डूबने के खतरे के बीच कर्मचारियों को भी अपनी नौकरी की चिंता सता रही थी।

वहीं फ्यूचर ग्रुप के अधिग्रहण की घोषणा के बाद रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (Reliance Retail ventures Limited) की निदेशक ईशा अंबानी ने कहा था कि इस सौदे के बाद भी फ्यूचर समूह के ब्रांड और फॉरमेट बरकरार रहेंगे। ईशा का कहना है कि बिग बाजार के बिजनेस इकोसिस्टम ने भारत के आधुनिक रिटेल के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इसलिए इसे बरकरार रखा जाएगा।

सरकार की इस स्कीम के जरिए, 31 अगस्त से फिर मिलेगा सस्ता सोना

बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी ने रिटेल बिजनेस में 3 करोड़ किराना मालिकों और 12 करोड़ किसानों को जोड़ने का लक्ष्य रखा था। फ्यूचर समूह के अधिग्रहण से रिलायंस अपनी स्थिती मजबूत करेगा। रिलायंस और फ्यूचर ग्रुप के बीच इस डील की शुरुआत इसी साल शुरू हुई थी। रिलायंस से पहले अमेरिकी कंपनी अमेजन ने भी फ्यूचर ग्रुप में दिलचस्पी दिखाई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here