Vivo India: ईडी ने किये चौंकाने वाले खुलासे, टैक्स से बचने के लिए भारत से बाहर भेजा गया रुपया

0
421

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गुरुवार को एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। खुलासे में कहा कि चीनी स्मार्टफोन कंपनी वीवो (Vivo) ने टैक्स से बचने के लिए 62,476 करोड़ रुपये चीन को भेजे हैं। ईडी ने कहा कि वीवो इंडिया (Vivo India) ने यहां पर टैक्स देनदारी से बचने के लिए अपने कारोबार का लगभग 50 प्रतिशत हिस्सा यानी 62,476 करोड़ रुपये विदेशों में पहुंचा दिया है।

अन्य देशों में भी भेजा पैसा

केंद्रीय जांच एजेंसी के मुताबिक वीवो इंडिया (Vivo India) ने भारत में टैक्स देने से बचने के लिए अपने राजस्व का बड़ा हिस्सा चीन ही नहीं बल्कि अन्य देशों में भी भेज दिया है। विदेशों में भेजी गई राशि 62,476 करोड़ रुपये है जो उसके कारोबार का लगभग आधा हिस्सा है।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने कहा कि Vivo मोबाइल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड एवं इसकी 23 संबद्ध कंपनियों के खिलाफ बुधवार को चलाए गए सघन तलाशी अभियान के बाद उनके बैंक खातों में जमा 465 करोड़ रुपये की राशि जब्त कर ली गई है। इसके अलावा 73 लाख रुपये की नकदी और दो किलोग्राम सोने की छड़ें भी जब्त कर ली गई हैं।

प्रवर्तन निदेशालय के अनुसार वीवो के पूर्व निदेशक बिन लाऊ ने भारत में कई कंपनियां बनाने के बाद साल 2018 में देश छोड़ दिया था। अब इन कंपनियों के वित्तीय ब्योरों पर जांच एजेंसी की नजरें टिक गई हैं।

कर्मचारियों ने नहीं दिया सहयोग

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने यह आरोप भी लगाया है कि वीवो इंडिया (Vivo India) के कर्मचारियों ने उसकी तलाशी अभियान के दौरान सहयोग नहीं दिया और भागने एवं डिजिटल उपकरणों को छिपाने की कोशिश कर रहे थे। फिर भी एजेंसी की टीमों ने डिजिटल सूचनाओं को खोज निकाला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here