नौकरी छोड़ते हुए नोटिस पीरियड पूरा नहीं किया तो…भरना होगा इतना GST

नौकरी छोड़ते हुए नोटिस पीरियड सर्व नहीं करने वाले कर्मचारियों को अब 18 फीसदी GST भरना होगा ।

0
133
Business News
नौकरी छोड़ते हुए नोटिस पीरियड पूरा नहीं किया तो...भरना होगा इतना GST

New Delhi: नौकरी छोड़ने से पहले कर्मचारियों को नोटिस देना होता है ये तो आप सभी को पता ही होगा, और ये भी कि नोटिस पीरियड (Notice Period) को पूरा किए बिना अगर कंपनी को छोड़ा जाता है तो कर्मचारी को नोटिस पीरियड (Business News) की बची हुई अवधि के लिए कंपनी को कुछ रकम का भुगतान करना होता है।

आजादी के बाद पहली बार पेपरलेस होगा बजट, जानें वजह

ऐसे में अब इसे लेकर एक बड़ा फैसला लिया गया है जिसके तहत नौकरी छोड़ने वालों को तगड़ा चूना लग सकता है।गुजरात अथॉरिटी ऑफ एडवांस रूलिंग (The Gujarat Authority of Advance Ruling) ने इसे लेकर एक बड़ा फैसला दिया है।

इस बैंक ने कैंसिल किया लाइसेंस, पांच लाख रुपये निकाल सकते है जमाकर्ता

इस फैसले के मुताबिक, अगर कोई कर्मचारी बिना नोटिस पीरियड पूरा किए नौकरी छोड़ता है तो उसके फुल-एंड-फाइनल पेमेंट पर 18 फीसदी GST कट सकता है। यह पूरा मामला अहमदाबाद की एक एक्सपोर्ट कंपनी एमनील फार्मा (Amneal Pharma) के एक कर्मचारी को लेकर शुरू हुआ था। GST अथॉरिटी का यह फैसला कंपनी (Business News in Hindi) के एक कर्मचारी के तीन महीने का नोटिस पीरियड सर्व किए बगैर नौकरी छोड़ने पर आया है।

क्या है पूरा मामला-

ये मामला अहमदाबाद की एक कंपनी एम्नील फार्मास्यूटिकल्स के एक कर्मचारी से शुरु किया गया था। जीएसटी अथॉरिटी ने ये फैसला कंपनी के एक कर्मचारी के तीन महीने का नोटिस पीरियड सर्व किए बिना नौकरी छोड़ने पर सुनाया है। साथ ही नोटिस पीरियड (Gujarat Authority of Advance Ruling) को लेकर अलग-अलग कंपनियों के नियम भी अलग होते हैं। ज्यादातर कंपनियों में ये एक महीने से लेकर तीन महीने तक ही होता है। लेकिन इस कई कर्मचारी इसी तरह बिना नोटिस पीरियड के नौकरी छोड़ी देते। अगर आप ऐसा करने की सोच रहे है तो सर्तक हो जाए।

इस मामले में GST (Gujarat Authority of Advance Ruling) आथॉरिटी ने फैसला देते हुए कहा कि, ये सभी रकम जीएसटी एक्ट के तहत कर्मचारी के छूट पर दी जाएगी। फिलहाल, नोटिस पीरियल पूरा ना करने की शर्त पर 18 फीसदी जीएसटी चुकाना ही होगा। ये चार्ज नोटिस की अवधि में रिकवरी के लिए होगा। जीएसटी अधिनियम के मुताबिक, कर्मचारी छूट के तहत राशि को कवर नहीं किया जाएगा। यानी कंपनी जो पैसा लेगा उसे अलग से देना होगा और जीएसटी अलग से।

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Business News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here