BSNL और MTNL के विलय की मंजूरी, अब मिलेगी MTNL मोबाइल पर फ्री कॉलिंग

सरकार ने हाल ही में घाटे में चल रही सरकारी टेलिकॉम कंपनी BSNL और MTNL के विलय की मंजूरी दी है। सरकार के फैसले के अनुसार, एमटीएनएल का बीएसएनएल में विलय किया जाएगा।

0
754
BSNL calling

सरकार ने हाल ही में घाटे में चल रही सरकारी टेलिकॉम कंपनी BSNL और MTNL के विलय की मंजूरी दी है। सरकार के फैसले के अनुसार, एमटीएनएल का बीएसएनएल में विलय किया जाएगा। इस प्रक्रिया में कुछ समय लग सकता है। हालांकि, इस फैसले का असर अभी से दिखाई देने लगा है।

मुंबई और दिल्ली के एमटीएनएल ग्राहकों के लिए बीएसएनएल ने मुफ्त कॉलिंग की सुविधा शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक, बीएसएनएल ने 429 रुपये, 485 रुपये और 666 रुपये वाले प्लान में बदलाव किया है। इन तीनों ही प्लान में अब MTNL नेटवर्क पर मुफ्त वॉइस कॉलिंग की जा सकेगी।

हालांकि, कंपनी ने एमटीएनएल की मुफ्त कॉलिंग को भी 250 मिनट प्रतिदिन की FUP (Fair Usage Policy) लिमिट के भीतर ही रखा है। कंपनी ने अपने बयान में कहा, ‘अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग (लोकल+एसटीडी+रोमिंग) की सुविधा, जिसमें एमटीएनएल के मुंबई और दिल्ली नेटवर्क पर कॉलिंग भी शामिल है।

गौरतलब है कि FUP लिमिट के साथ आती है। अगर कोई यूजर 250 मिनट से अधिक इस्तेमाल करता है तो इसके लिए अलग से चार्ज लिया जाएगा।’

गौरतलब है कि सरकार ने 23 अक्टूबर को घाटे में चल रही सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनियों के लिए 68,751 करोड़ रुपये के रिवाइवल पैकेज को मंजूरी दी है।

दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने के हवाले से ख़बर है कि BSNL और MTNL का विलय होने में कुछ समय लगेगा। तब तक MTNL, BSNL की सब्सिडियरी के रूप में काम करेगी। इससे 2 साल बाद बीएसएनएल को मुनाफे में लाया जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here