स्लो सैलरी ग्रोथ इसकी वजह से हर 10 में से 1 कर्मचारी करना चाहता है बिजनेस

0
76

कोरोना महामारी के चलते हर क्षेत्र में लोगों ने नई नौकरियों को बदला है। नौकरियां बदलने का ये सिलसिला आगे भी जारी रहने वाला है। द ग्रेट रेजिग्नेशन सर्वे 2022 के मुताबिक 10 में 4 कर्मचारी सैलरी बढ़ने के बाद अपनी मौजूदा कंपनी से इस्तीफा देकर नई नौकरी की तलाश में है। ऐसा करने वाले लोगों की संख्या में ज्यादातर कर्मचारी सिर्फ तीन सेक्टर के हैं जिनमें पहला सर्विस सेक्टर (37%), मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर (31%) और IT सेक्टर (27%) मौजूद है।

नौकरी बदलने की सबसे बड़ी वजह स्लो सैलरी इंक्रीमेंट

सर्वे में अलग-अलग सेक्टर के 500 से ज्यादा आर्गनाइजेशन को शामिल किया गया। नौकरी से इस्तीफा देने की वजहों में सबसे मुख्य वजह स्लो सैलरी इंक्रीमेंट (54.8%), वर्क-लाइफ इमबैलेंस (41.4%), आगे बढ़ने के मौकों में कमी (33.3%) और काम को सही रिस्पॉन्स न मिलना (28.1%) हैं।

खुद का बिजनेस शुरू कर रहे कर्मचारी

सर्वे के मुताबिक कोरोना संकटकाल के बाद हर 10 में से एक कर्मचारी ने या तो पाना बिजनेस शुरू कर दिया है या फिर शुरू करने की सोच रहा है। अपना बिजनेस शुरू करने वालों में ज्यादातर 30-45 साल के लगभग 35% कर्मचारी एंटरप्रेन्योर बनना चाहते हैं। 20-29 साल की उम्र के 44% कर्मचारी फिलहाल इस्तीफा देने की सोच रहे हैं और खुद का बजनेस शुरू करना चाहते हैं।

40% से ज्यादा इंक्रीमेंट की है चाहत

सर्वे में हर तीसरा कर्मचारी 40% और उससे अधिक का इंक्रीमेंट चाहता है लेकिन पिछले कुछ सालों से ऐसा हो नहीं रहा है। अपनी सैलरी ग्रोथ को लेकर कई कर्मचारी निराश हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here