7th Pay Commission: हो सकता है न आए नया वेतन आयोग, सरकार ला सकती है वेतन बढ़ाने का नया फार्मूला

0
128
7th Pay Commission

सेना में नई भर्ती के नियमों को लेकर बदलाव किए गए है इसी तरह सरकारी कर्मचारियों (Govt Employees) को सैलरी दिए जाने के तरीके में एक बड़ा बदलाव होने जा रहा है। सरकारी कर्मचारियों को अब तक वेतन आयोग के हिसाब से सैलरी मिलती है। कुछ सालों के बाद सरकार नया वेतन आयोग लाती है और सरकारी कर्मचारियों की सैलरी बढ़ जाती है। अब आने वाले दिनों में यह व्यवस्था बदल सकती है। अभी तक सातवां वेतन आयोग (7th Pay Commission) चल रहा है और अब आठवां वेतन आयोग के न आने की उम्मीद है। जब नया वेतन नहीं आएगा तो सवाल उठता है कि कर्मचारियों की सैलरी बढ़ेगी कैसे ?

किस तरह बढ़ेगी सरकारी कर्मचारियों की सैलरी?

आने वाले दिनों में सरकारी कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने के लिए नए फॉर्मूले का इस्तेमाल कर रही है। सरकार वेतन आयोग को हटाकर नया फार्मूला ला रही है। सूत्रों के हवाले से पता लगा है कि वित्त मंत्रालय कर्मचारियों के प्रदर्शन के आधार पर उनकी सैलरी में बढ़ोतरी करेगी। इस प्रक्रिया को लागू करने के लिए सरकार विचार कर रही है।

अरुण जेटली ने दिया था ये कांसेप्ट

वेतन आयोग के अनुसार सैलरी बढ़ाए जाने के बजाय एक नया फॉर्मूला लागू करने की बात करीब 6 साल पहले ही शुरू हो गई थी। तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने संसद में कहा था कि अब सरकारी कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाए जाने के लिए वेतन आयोग लाने के बजाय कुछ हटकर सोचा जाए। ऐसा माना जा रहा है कि अब मोदी सरकार अरुण जेटली के उसी सपने को साकार करने की तैयारी में लगी हुई है।

जानिए नए फॉर्मूले के बारे में

नए फॉर्मूले में कर्मचारियों के वेतन में इजाफा डीए के आधार पर किया जा सकता है। कर्मचारियों का डीए 50 फीसदी बढ़ते ही उनकी सैलरी में ऑटोमेटिक इजाफा होने का फॉर्मूला अपनाए जाने की उम्मीद है। अभी तक इस फॉर्मूले पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। लेकिन नए फॉर्मूले से सबसे अधिक फायदा छोटे स्तर के कर्मचारियों को हो सकता है। सरकार का ये नया फार्मूला केंद्र के 68 लाख कर्मचारियों और करीब 52 लाख पेंशनधारकों के लाभकारी साबित होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here