इस देश में दूल्हा-दुल्हन को 3 दिनों तक नहीं जाने दिया जाता टॉयलेट, वजह हैरान कर देगी

0
74
DESIGN PHOTO

ज्यादातर हर कोई व्यक्ति अपने जीवन में कभी न कभी शादी जरूर करता है क्योंकि जीवन में एक समय ऐसा भी आता है जब हमें किसी पार्टनर की जरूरत होती है. जिस वजह से शादी के बंधन में बंधने का एक रिवाज बना गया है. देश में हर धर्म में शादी को लेकर अपना ही अलग रिती-रिवाज बनाया गया है. कहीं दूल्हा घोड़ी पर बैठके हाथ में तलवार लेकर आता है, तो कहीं दुल्हन डोली पर बैठकर अपेन ससुराल जाती है. वहीं आज हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां शादी को लेकर एक बेहद अनोखी रस्म है, जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे.

इस देश में है शादी को लेकर बेहद अनोखी रस्म

आपको बता दें कि इंडोनिशया में दूल्हा-दुल्हन से टॉयलेट न जाने की रस्म करवाई जाती है. जिसका चलन टीडॉन्ग समुदाय में किया जाता है. इस बिरादरी के लोग शादी में होने वाली इस रस्म को बहुत विशेष मानते हैं. जिस वजह से ये पूरी तरह से इस नियम का पालन भी करते हैं.

3 दिनों तक नहीं जा सकते दूल्हा-दुल्हन टॉयलेट

इस रस्म के मुताबिक शादी के बाद दूल्हा-दुल्हन को 3 दिनों तक टॉयलेट नहीं जाना होता है. इनका ऐसा मानना है कि शादी एक पवित्र समारोह है. इसलिए अगर वो इस दौरान टॉयलेट जाते हैं तो उनकी पवित्रता भंग हो जाती है और दूल्हा-दुल्हन अशुद्ध हो जाते हैं.

दूल्हा-दुल्हन को टॉयलेट ना भेजे की ये है बड़ी वजह

आपको बता दें कि इंडोनेशिया में नव दांपत्ति को टॉयलेट न जाने देने का मुख्य कारण ये है कि इससे वो बुरी नजर से बचे रहते हैं. वहीं समुदाय का मानना है कि टॉयलेट को शरीर की गंदगी बाहर निकालने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. जिस वजह से नकारत्मक शाक्तियां आती हैं और दूल्हा-दुल्हन की शादी टूटने का खतरा भी हो सकता है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here