CM Dhami Diwali Shopping: धामी ने लोकल फॉर वोकल को दिया बढ़ावा, काफिला रोककर बाजार में की खरीदारी, Video

0
71
CM Pushkar Singh Dhami
CM Pushkar Singh Dhami

CM Dhami Diwali Shopping: शनिवार को उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी (CM Pushkar Singh Dhami) ने लॉकल फॉर वोकल (Lockal For Vokal) को बढ़ावा दिया। शनिवार को देर शाम सीएम धामी काशीपुर से खटीमा पहुंचे थे। यहां उन्होंने खटीमा मुख्य बाजार (Khatima Market Shopping) में काफिला रुकवा कर मिट्टी से बने दियों की खरीददारी की।

लॉकल फॉर वोकल को दिया बढ़ावा

सीएम ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के आह्वान के अनुरूप वोकल फॉर लोकल के महाअभियान को बढ़ावा देता छोटा सा सहयोग बताया। उन्होंने कहा कि मिट्टी से बने दिये एवं स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देना एक कुम्हार के घर को आर्थिक रूप से मजबूत करता है। इस अवसर पर उन्होंने सभी से इस दिवाली को ज्यादा से ज्यादा स्थानीय उत्पादों को खरीदे जाने का आग्रह किया।

पीएम मोदी का उत्तराखंड दौरा समाप्त

बता दे कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपना उत्तराखंड दौरा (PM Modi Uttarakahdn Visit End) समाप्त कर शनिवार को बद्रीनाथ से दिल्ली के लिए रवाना हो गए। प्रधानमंत्री पहले बद्रीनाथ से हेलीकॉप्टर के जरिये देहरादून के निकट जौलीग्रांट एयरपोर्ट (Jollygrant Airport) पहुंचे, जहां से वह विमान में सवार होकर दिल्ली के लिए रवाना हुए। एयरपोर्ट पर उत्तराखंड के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी तथा अन्य लोगों ने उन्हें विदाई दी।

3,400 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास

बता दे कि, पीएम मोदी शुक्रवार को केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम गए थे, जहां उन्होंने भगवान के दर्शन और पूजा-अर्चना करने के अलावा दोनों धामों में चल रहे निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की थी। प्रधानमंत्री भारत-चीन सीमा पर स्थित भारत के अंतिम गांव माणा भी गए थे, जहां उन्होंने एक जनसभा को संबोधित किया था।

दो दिवसीय दौरे में प्रधानमंत्री ने 1,267 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले 9.7 किलोमीटर लंबे गौरीकुंड-केदारनाथ रज्जूमार्ग (रोपवे), 1,163 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले 12.40 किलोमीटर लंबे गोविंदघाट-हेमकुंड रज्जूमार्ग सहित करीब 3,400 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास किया था। उनका प्रधानमंत्री के रूप में केदारनाथ का यह छठा और बद्रीनाथ धाम का दूसरा दौरा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here