Ganesh Chaturthi: पुणे में किया 35,000 महिलाओं ने एक साथ Ganpati अथर्वशीर्ष का पाठ, देखे देश में केसे मनाई जा रही गणेश चतुर्थी

0
403
Ganesh Chaturthi

Ganesh Chaturthi: गणपति उत्सव (Ganesh Chaturthi) एक ऐसा पर्व है जो देश भर में धूमधाम से मनाया जाता है और देश के सभी राज्यों में गणपति का स्वागत जोश और उल्लास के साथ होता है और आने वालों दस दिनों तक अनेकों तरह के कार्यक्रमों का आयोजन भी होता है। आज (20 सितंबर) को गणेश उत्सव वार्षिक पर्व का दूसरा दिन है। आज से लेकर आने वाले 10 दिन के लिए गणपति उत्सव शुरू हो जाते हैं जिसकी काफी मान्यता है। इस दिन हर घर में गणपति बप्पा विराजमान रहते हैं और जगह-जगह श्री गणेश के आगमन के लिए झांकियां भी सजाई जाती हैं। गणेश चतुर्थी की मान्यता महाराष्ट्र में विशेष रूप से है इस त्यौहार को सबसे ज्यादा धूमधाम से यहीं मनाया जाता हैं।

आज गणेश उत्सव पर्व का दूसरा दिन :-

आज के दिन को गणेश उत्सव पर्व का दूसरा दिन मनाया जा रहा है। गणेश चतुर्थी से लेकर आने वाले 10 दिनों के लिए गणपति उत्सव शुरू हो जाते हैं, जिसकी काफी मान्यता रहती है। इस दिन हर घर में गणपति बप्पा विराजमान होते हैं और जगह-जगह गणेश के आगमन के लिए बेहद सुंदर और आँखों को मोह लेने वाली झांकियां सजाई जाती हैं। गणेश चतुर्थी की महाराष्ट्र में थोड़ी विशेष मान्यता है, इस त्यौहार को सबसे ज्यादा धूमधाम से यहीं ही मनाया जाता है। गणेश उत्सव पर्व के दूसरे दिन पुणे में श्रीमंत दगडूशेठ हलवाई गणपति मंदिर के सामने 35,000 से ज्यादा महिलाएं एकत्रित हुईं और गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ किया। इस कार्यक्रम का आयोजन मंदिर ट्रस्ट ने किया था, जबकि यह आयोजन गणेश चतुर्थी समारोह के एक भाग के तौर पर आयोजित करवाया गया, मंदिर ट्रस्ट का ये कहना है की वह आगे और भी कार्यक्रम करवाएगा।

बता दें कि भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि के दिन माता पार्वती के लाल गणपति का जन्म हुआ था। उस दिन स्वाति नक्षत्र और अभिजीत मुहूर्त में गणपति जन्मे थे। 19 सितंबर 2023 को गणेश चतुर्थी पर भी यही संयोग बन रहा है जो की काफी शुभ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here