Meghalaya Firing: मेघालय फायरिंग में वन कर्मी समेत 6 लोगों की मौत, 7 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद

0
202
Asam Meghalaya Firing
Asam Meghalaya Firing

Meghalaya Firing: मंगलवार सुबह असम-मेघालय सीमा (Assam Meghalaya Firing) पर फायरिंग हो गई। जिसमें एक वन कर्मी (Forest Worker) समेत 6 लोगों की मौत हो गई। साथ ही पुलिस ने 7 जिलों में अलर्ट जारी कर दिया और साथ ही इंटरनेट सेवा बंद कर दी।

3 बजे हुई फायरिंग 

बता दे कि, मंगलवार सुबह करीब 3 बजे पुलिस ने लकड़ी से भरे ट्रक को रोकने की कोशिश की। ट्रक के ना रूकने पर वन कर्मियों ने फायरिंग कर दी। जिसके बाद वहां हिंसा भड़क गई। जिसमें 6 लोगों की मौत हो गई।

वेस्ट कार्बी आंगलोंग के पुलिस अधीक्षक इमदाद अली ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि ट्रक को मेघालय सीमा पर असम वन विभाग के एक दल ने तड़के करीब तीन बजे रोका। उन्होंने बताया कि ट्रक के न रुकने पर वन विभाग के कर्मियों ने उस पर गोलियां चलाई और उसका टायर पंचर कर दिया।

कई लोग हिरासत में लिए गए

ट्रक चालक, उसका एक सहायक और एक अन्य व्यक्ति को पकड़ लिया गया, जबकि एक अन्य व्यक्ति वहां से भाग निकला। अली ने बताया कि वन विभाग के कर्मियों ने घटना की जानकारी जिरिकेंडिंग थाने के अधिकारियों को दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची।

उन्होंने बताया कि इसके बाद मौके पर भीड़ एकत्रित हो गई और गिरफ्तार किए लोगों की रिहाई की मांग करने लगी। भीड़ ने वन विभाग के कर्मियों और पुलिस को घेर लिया जिसके बाद स्थिति को नियंत्रण करने के लिए अधिकारियों को गोलियां चलानी पड़ी।

अधिकारी ने कहा, घटना में वन विभाग के एक होम गार्ड और खासी समुदाय के तीन लोगों की मौत हो गई। स्थिति अब नियंत्रण में है। वन कर्मी विद्यासिंग लेखटे की मौत कैसे हुई, यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here