दिल्ली चुनाव परिणाम से तय होगा किस रास्ते पर चलेगा देश ?

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने शाहीन बाग को अपना एक अहम चुनावी मुद्दा बना लिया है। दरअसल, जहां एक ओर प्रदेश में सत्तारूढ़ ‘आम आदमी पार्टी’ अपने काम को लेकर चुनाव मैदान में है।

0
764

पत्रकार : महेश कुमार यदुवंशी

दिल्ली विधानसभा चुनाव- 2020

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने शाहीन बाग को अपना एक अहम चुनावी मुद्दा बना लिया है। दरअसल, जहां एक ओर प्रदेश में सत्तारूढ़ ‘आम आदमी पार्टी’ अपने काम को लेकर चुनाव मैदान में है। वहीं भाजपा दिल्ली के चुनाव को ‘देशभक्त बनाम देशद्रोहियों’ के बीच की जंग के तौर पर प्रचारित करने की कोशिश में जुट गई है।

दरअसल, बीजेपी चुनावी प्रचार में शाहीन बाग में CAA (नागरिकता संशोधन कानून- 2019) के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन को जोर शोर से उठा रही है। बीजेपी नेता साफ कह रहे हैं कि शाहीन बाग का प्रदर्शन देश विरोधियों का प्रदर्शन है। वह लगातार केजरीवाल सरकार पर जुबानी हमला कर रहे हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नजफगढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए दिल्ली चुनाव को ‘शाहीन बाग वर्सेस भारत माता’ की जंग के तौर पर बताया है।

दरअसल, शाह ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि 8 फरवरी को आपका एक वोट तय करेगा कि आप शाहीन बाग वालों के साथ हैं या भारत माता के साथ। देखा जाए तो इसका मतलब है कि जो BJP को वोट करेगा वही भारत माता को मानता है या देश भक्त है। वहीं जो केजरीवाल या अन्य पार्टी को वोट करेगा वह शाहीन बाग के साथ है या यूं कहें कि वह भारत माता का विरोधी है।

वास्तव में बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष का ये बयान काफी हैरान करने वाला है। क्योंकि भारत के संविधान के मुताबिक, देश के सभी नागरिकों को किसी भी दल को वोट करने का अधिकार है। लिहाजा गृह मंत्री के बयान पर कई सवाल उठते हैं। मसलन.. क्या शाहीन बाग देश में नहीं है…

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के नजफगढ़ में बीजेपी प्रत्याशी के समर्थन में अमित शाह ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘अजीत खड़खड़ी को जिताने के लिए यहां आया हूं। ये पूरा क्षेत्र वीर माताओं और वीर जवानों का क्षेत्र है। 8 तारीख को जब आप मतदान करें, तो ऐसे मत सोचना कि आपका एक वोट अजीत भाई को विधायक बनाएगा।

गृह मंत्री अमित शाह ने आगे कहा कि आपका एक वोट पूरे देश में ये संदेश देने वाला है कि नजफगढ़ वाले शाहीन बाग के साथ हैं या भारत मां के बेटों के साथ.. उन्होंने कहा, आपका एक वोट यह संदेश देने वाला है कि इस देश को किस रास्ते पर चलना है’… सवाल ये भी है कि क्या दिल्ली विधानसभा चुनाव का परिणाम तय करेगा भारत माता का भविष्य ? हालांकि, बयानबाजी (आरोप प्रत्यारोप) राजनीति के अहम पहलू हैं। लेकिन लोकतंत्र प्रासंगिकता को बनाए रखने के लिए जरूरी है कि राजनीतिक बयानबाजी में संविधान की मूल भावना के अनुरूप हो।

(ये लेखक के निजी विचार हैं)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here