बजट 2019: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पिटारे से अब तक किसको क्या मिला तोहफा

0
124

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2019-20 का आम बजट शुक्रवार को लोकसभा में पेश करते हुए कहा कि भारत की जनता ने जनादेश के माध्यम से हमारे देश के भविष्य के लिए अपने दो लक्ष्यों- राष्ट्रीय सुरक्षा और आर्थिक वृद्धि पर मुहर लगाई है। निर्मला सीतारमण ने कहा कि हमारा उद्देश्य है, मजबूत देश के लिए मजबूत नागरिक।

सीतारमण ने कहा कि सरकार आर्थिक विकास बढ़ाने पर काम करेगी। सरकार का जोर रिफॉर्म, ट्रांसफॉर्म और पर्फोम करने पर रहेगा। उन्होंने कहा कि चुनाव में महिलाओं और युवाओं ने ज्यादा तदाद में वोट दिए हैं। उन्होंने कहा कि इस बार देश की जनता ने पूर्ण बहुमत के साथ हमें सरकार में बैठाया है।  इतना ही नहीं, वित्त मंत्री का कहना है कि आगामी पांच सालों में भारत की इकोनॉमी पांच ट्रिलियन डॉलर की होगी। वहीं इसी साल भारत तीन ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगी। आगामी वर्षों में सरकार द्वारा और फेसिलिटेशन सेंटर खोले जाएंगे।  

उन्होंने कहा कि सागरमाला, भारतमाला और उड़ान योजना से लोगों को लाभ मिलेगा। 2019 में मेट्रो की लंबाई बढ़ेगी। इलेक्ट्रीकल वाहनों को बढ़ावा देने के लिए सरकार कदम उठाएगी। भारतीय रेलवे के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा पीपीपी मॉडल लाया जाएगा। 12 साल में सरकार रेल इंफ्रा के लिए 50 लाख करोड़ रुपये खर्च करेगी। 

इतना ही नहीं, पेंशन को लेकर भी सीतारमण ने महत्वपूर्ण एलान किया है। उन्होंने कहा कि तीन करोड़ खुदरा दुकानदारों को पेंशन सुविधा का लाभ मिलेगा। इस सुविधा के लिए बैंक खाते और आधार का इस्तेमाल किया जाएगा। वहीं 1.5 करोड़ के टर्नओवर वालों को भी पेंशन मिलेगी। भारत को मोस्ट फेवरेट एफडीआई देश बनाने की सरकार की पूरी तैयारी है। सीतारमण ने कहा कि सिंगल ब्रांड रिटेल में एफडीआई बढ़ेगी। वहीं बीमा में 100 फीसदी एफडीआई का इजाफा होगा। मीडिया में भी विदेशी निवेश को बढ़ाया जाएगा। 

साल 2014 के बाद 9.6 करोड़ शौचालय का निर्माण किया गया है। 5.6 लाख गांव आज देश में खुले से शौच से मुक्त हो गए हैं। स्वच्छ भारत मिशन के विस्तार के लिए सरकार प्रतिबद्ध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here