वर्ल्ड कप स्पेशल :- भारत vs न्यूजीलैंड सेमीफाइनल के खेल में कौन होगा फेल और कौन होगा पास !

वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल में मंगलवार 9 जुलाई को भारत का सामना न्यूजीलैंड से होगा. ऐसे में सभी की निगाहें इस मुकाबले पर लगी हैं. आंकड़े देखें तो फिर इस मैच में जीत दर्ज कर भारत के पास फाइनल में जगह बनाने का अच्छा मौका है. वो इसलिए क्योंकि टीम इंडिया इससे पहले छह बार सेमीफाइनल खेलकर तीन में जीत दर्ज कर चुकी है,

0
216

भारतीय टीम ने सातवीं बार वर्ल्ड कप के फाइनल में जगह बनाई है. छह बार में से टीम ने तीन बार सेमीफाइनल मुकाबले जीते, जबकि तीन में उसे हार मिली. वहीं आठवीं बार सेमीफाइनल में पहुंचीं न्यूजीलैंड की टीम 7 में से 6 सेमीफाइनल मुकाबले हारी है.
भारतीय टीम ने लगातार तीसरे साल सेमीफाइनल में जगह बनाई है, जहां 2011 में उसने खिताब जीता था, वहीं 2015 में उसे ऑस्ट्रेलिया से मात मिली. आइए जानते हैं कि टीम इंडिया ने अब तक खेले अपने सभी सेमीफाइनल मुकाबलों में कैसा प्रदर्शन किया है.

वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल में मंगलवार 9 जुलाई को भारत का सामना न्यूजीलैंड से होगा. ऐसे में सभी की निगाहें इस मुकाबले पर लगी हैं. आंकड़े देखें तो फिर इस मैच में जीत दर्ज कर भारत के पास फाइनल में जगह बनाने का अच्छा मौका है. वो इसलिए क्योंकि टीम इंडिया इससे पहले छह बार सेमीफाइनल खेलकर तीन में जीत दर्ज कर चुकी है, जबकि न्यूजीलैंड की टीम ने सात सेमीफाइनल खेलकर महज एक ही जीता है और वो भी 2015 में हुए पिछले वर्ल्ड कप में.

वर्ल्ड कप में यह सातवां मौका है जब भारतीय क्रिकेट टीम ने सेमीफाइनल में जगह बनाई है. छह सेमीफाइनल में से तीन में उसे जीत मिली है जबकि तीन में हार का सामना करना पड़ा. वहीं, न्यूजीलैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया के बराबर रिकॉर्ड आठवीं बार सेमीफाइनल में पहुंची है.

1983 : इंडिया बनाम इंग्लैंड, मैनचेस्टर (भारत 6 विकेट से जीता)

टीम इंडिया ने पहली बार वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में जगह बनाई. इंग्लैंड के मैनचेस्टर में हुए इस मुकाबले में कप्तान कपिल देव, रोजर बिन्नी और मोहिंदर अमरनाथ की गेंदबाजी के आगे इंग्लैंड की टीम 60 ओवर में 213 रन ही बना सकी. जवाब में यशपाल शर्मा के 61 और संदीप पाटिल के ताबड़तोड़ 51 रन की बदौलत टीम ने पांच ओवर शेष रहते 6 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया.

1987 : इंडिया बनाम इंग्लैंड, मुंबई (इंग्लैंड 35 रन से जीता)

अगले वर्ल्ड कप में फिर भारत का सामना सेमीफाइनल में इंग्लैंड से ही हुआ. इस मुकाबले में ग्राहम गूच के शतक 115 रन की बदौलत इंग्लैंड ने 6 विकेट खोकर 254 रन बनाए. एडी हेमिंग्स और नील फोस्टर ने कुल मिलाकर सात विकेट लेकर भारतीय बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी. मोहम्मद अजहरुद्दीन ने सबसे ज्यादा 64 रन बनाए. इंग्लैंड ने यह मुकाबला 35 रन से अपने नाम किया.

1996 : इंडिया बनाम श्रीलंका, कोलकाता (श्रीलंका को मिली जीत)

वर्ल्ड कप के विवादित सेमीफाइनलों में इसकी गिनती होती है. कोलकाता के ईडन गार्डेंस में हुए मुकाबले में श्रीलंका ने 8 विकेट खोकर 251 रन बनाए. इनमें रोशन महानामा और अर्जुन रणतुंगा का खास योगदान रहा. जवाब में एक समय टीम इंडिया एक विकेट पर 98 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी, लेकिन सचिन तेंदुलकर के आउट होते ही टीम ने 22 रनों के भीतर छह विकेट खो दिए. इसके बाद दर्शक बेकाबू हो गए और दर्शकों को स्टेडियम के बाहर निकालकर मैच में श्रीलंका को विजेता घोषित कर दिया गया.

2003 : इंडिया बनाम केन्या, डरबन (भारत 91 रन से जीता)

यह टीम इंडिया का चौथा सेमीफाइनल था और सामने अप्रत्याशित प्रदर्शन कर अंतिम-4 में पहुंची केन्या की टीम थी. सौरव गांगुली ने टूर्नामेंट में अपनी तीसरा शतक जड़ते हुए टीम का स्कोर 4 विकेट पर 270 रन क पहुंचाया. जवागल श्रीनाथ, जहीर खान और आशीष नेहरा के आगे केन्या ने 104 रन तक 7 विकेट गंवा दिए थे, लेकिन अंत में कप्तान स्टीव टिकोला और कोलिंस ओबुया ने टीम का स्कोर 150 के पार पहुंचवाया. सचिन तेंदुलकर ने भी इस मैच में दो विकेट लिए और टीम ने यह मुकाबला 91 रन से जीता.

2011 : इंडिया बनाम पाकिस्तान, मोहाली (भारत 29 रन से जीता)

2011 के वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल क्रिकेट जगत की दो चिर-प्रतिद्वंद्वी टीमों भारत और पाकिस्तान के बीच खेला गया था. एक समय 26वें ओवर में दो विकेट पर 141 रन बनाकर खेल रही भारतीय टीम 300 का स्कोर पार करती दिख रही थी. मगर पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वहाब रियाज के घातक प्रदर्शन की बदौलत टीम ने भारत को 9 विकेट पर 260 रनों तक रोक दिया. हालांकि इसके बाद पाकिस्तान वर्ल्ड कप में भारत को कभी न हरा पाने का रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाया और 29 रन से यह मुकाबला गंवा बैठा.

2015 : इंडिया बनाम ऑस्ट्रेलिया, सिडनी (ऑस्ट्रेलिया 95 रन से जीता)

2003 वर्ल्ड कप के फाइनल में मिली हार का बदला लेने के लिए भारतीय टीम इस मुकाबले में उतर रही थी. मगर यहां उसे निराशा ही मिली. स्टीव स्मिथ के 105 और एरॉन फिंच के 81 रन की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने 7 विकेट पर 328 रन बनाए. बदला लेना तो दूर भारतीय टीम मिचेल स्टार्क, जेम्स फॉकनेर के सामने 233 रनों पर ढेर हो गई. महेंद्र सिंह धोनी ने सबसे ज्यादा 65 रन बनाए.

NOTE : क्रिकेट प्रशंसकों के लिए बुरी खबर ये है कि लीग चरण की तरह ही इन दोनों टीमा के बीच होने वाले सेेमीफाइनल में भी बारिश की आंशका जताई गई है. ऐसा होता है तो फिर दर्शकों का मजा खराब हो सकता है. ब्रिटेन के मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार को बादल छाए रहेंगे और रुक-रुककर हल्की बारिश होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here