भारत के इस राज्य में पाए गए ‘इलेक्ट्रिक मशरूम’, रात में छोड़ते हैं रोशनी

भारत के मेघालय में एक नई प्रजाति का मशरूम मिला. इसकी खासियत ये है कि ये रात में चमकता है जिसे देख कर हर कोई हैरान है

0
224
Electric Mushroom
भारत के इस राज्य में पाए गए 'इलेक्ट्रिक मशरूम' रात में छोड़ते हैं रोशनी

New Delhi: भारत के मेघालय में एक नई प्रजाति का मशरूम मिला। इसकी खासियत ये है कि ये रात में चमकता (Electric Mushroom) है जिसे देख कर हर कोई हैरान है। वैज्ञानिकों ने जिसे रोरिडोमाइसेस फाइलोस्टैचिडिस (Roridomyces Phyllostachydis) नाम दिया है। इसे सबसे पहले मेघालय के ईस्ट खाली हिल्स जिले के मॉवलीनॉन्ग (Mawlynnong) में एक जलस्रोत के पास देखा गया था। इसके बाद यह वेस्ट जंतिया हिल्स के क्रांग सुरी में भी दिखाई दिया था।

फोन उठाते ही क्यों बोलते हैं ‘हैलो’, जानिए इसकी रोचक कहानी

बता दें कि इस मशरूम भारतीय और चीनी वैज्ञानिकों के एक समूह ने खोजा है। ये लोग असम में मॉनसून के बाद जंगलों में फंगस की प्रजातियों पर शोध कर रहे थे। जिस दौरान उन्हें इलेक्ट्रिक मशरूम दिखाई दिया। जिसके बाद वैज्ञानिक मेघालय पहुंचर इसकी खोज करने लगे। और अब मेघालय के जंगलों में मिली मशरूम की यह प्रजाति दुनिया के 97 चमकने वाले मशरूमों की सूची में शामिल हो चुकी है।

रात के अंधेरे में बारिश के बीच जब साइंटिस्ट मेघालय के जंतिया हिल्स और खासी हिल्स के जंगलों में पहुंचे तो चमकते हुए मशरूम (Electric Mushroom) को देख कर हैरान रह गए। ऐसे मशरूम्स को बायो-ल्यूमिनिसेंट मशरूम कहते हैं। रात के अंधेरे में यह हल्के नीले-हरे और बैंगनी रंग में चमकता दिखाई दिता है। रात में चमकने वाले ये मशरूम्स दिन में साधारण मशरूम की तरह ही दिखते हैं।

इस शख्स की हैं तीन सुंदर बीवियां, तीनों कर रहीं चौथी की तलाश

वन्य जीव विशेषज्ञ गौतम बरुआ का कहना हैं मशरूम की इस प्रजाति को रोरिडोमाइसेस फाइलोस्टैचिडिस कहते हैं जो रात में हल्की रोशनी छोड़ता है। यह मशरूम रात में रोशनी इसलिए छोड़ता है ताकि इसपर मौजूद बीजाणु कीड़ों के जरिए जंगल में अन्य जगहों पर फैल जाएं और इस मशरूम की तादात में बढ़ोतरी हो। मेघालय में ये मशरूम बांस के जंगलों में बांस की जड़ों के पास ही उगते हैं।

रोशनी छोड़ने वाले ये मशरूम (Ajab-Gajab News In Hindi) अपनी आबादी को बढ़ाने के लिए कीड़ों द्वारा जंगलों में फैलता है। इससे वे पौधों की छाल, तने, जमीन, से नमी लेकर पनपते है जो एक खास प्रकार का कवक होता है। अब तक रोशनी छोड़ने वाले मशरूम्स की 97 प्रजातियों का पता ही चला है। इस मशरूम को फैलने के लिए तापमान 21 डिग्री सेल्सियस से 27 डिग्री सेल्सियस होना चाहिए। इन्हें खोजना कोई बहुत मुश्किल काम नहीं होता है लेकिन आपको इसे खोजने के लिए रात के समय जंगल में घूमना होगा।

अजब-गजब से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Azab-Gazab News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here