पांच साल जंगल में भटकती रही भेड़, शरीर से निकला 35 किलो ऊन

ऑस्ट्रेलिया में मिली एक भेड़ सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गई है। इस भेड़ से 35 किलो ऊन निकाला गया।

0
304
Australia Sheep Wool
पांच साल जंगल में भटकती रही भेड़, शरीर से निकला 35 किलो ऊन

Australia: दुनिया के कुछ हिस्‍सों से कभी-कभी हैरान करने वाली खबरें सामने आती है, जो एक चर्चा का विषय बन जाता है। ऐसी ही एक खबर ऑस्ट्रेलिया के जंगलों से आई है जहां एक ऐसी भेड़ पाई गयी है जिसने सोशल मीडिया पर धूम मचा दिया है। दरअसल ये भेड़ दिखने में तो और भेड़ जैसी ही है लेकिन इसके ऊपर 35 किलो ऊन (Australia Sheep Wool) की परत जमी हुई है।

घर पर हो रहा था बोर तो किया ये काम, जानें कैसे बना करोड़पति

मिली जानकारी के मुताबिक आस–पास के लोगों ने इस भेड़ (Australia Sheep Wool) को देखा तो ये ऊन की तरह दिख रहा था। लोगों ने इसे पकड़कर उसके रोएं काटे तो करीब 35 किलोग्राम ऊन निकाला गया। बताया जा रहा है की ये भेड़ कम से कम पांच साल तक जंगलों में भटकती रही। जिस वजह से उसके शरीर में ऊन की कटाई नहीं हो पाई।

इस देश को कहा जाता है मिनी हिंदुस्तान, जानें कई सालों पहले का इतिहास

बता दें कि ये भेड़ मेलबर्न के पशु बचाव सेंचुरी को विक्टोरियन स्टेट फॉरेस्ट में भटकती मिली थी। हाल ही में उसे बचाकर एनिमल रेस्क्यू सेंटर पर लाया गया। जहां इस भेड़ का खूब ख्याल रखा जा रहा है। इसी सेंटर पर भेड़ (Ajab Gajab News) के शरीर से ऊन को अलग किया गया है। फार्म सेंचुरी के संस्‍थापक पैम अहेर्न ने कहा कि उन्‍हें विश्‍वास ही नहीं हुआ कि इस ऊन के ढेर के नीचे कोई भेड़ असल में जिंदा भी रह सकती है।

पार्म ने बताया कि रोएं इतने ज्‍यादा थे और कीचड़ की वजह से कड़े हो गए थे कि भेड़ को काफी परेशानी हो रही थी। इतना ही नहीं ज्‍यादा ऊन हो जाने की वजह से भेड़ ठीक से चल भी नहीं पा रही थी। उन्होंने कहा कि अगर ऊन को नहीं काटा जाता तो गर्मियों में शायद उसकी मौत भी हो सकती थी। फिलहाल यह भेड़ सुरक्षित है और इसकी देखभाल की जा रही है।

अजब-गजब से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Ajab-Gazab News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here