जम्मू कश्मीर में खत्म अलग झंडे का विधान, अब कश्मीर की वादियों में भी लहरेगा तिरंगा.

जम्मू कश्मीर। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को धारा 370 के तहत मिलने वाले सभी विशेषाधिकार को वापस ले लिया है। मोदी सरकार के इस कदम को ऐतिहासिक माना जा रहा है। कांग्रेस को छोड़कर विपक्ष की कई पार्टियां इस फैसले के समर्थन में हैं

0
185
MY LIFE MY TIRANGA

जम्मू कश्मीर। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को धारा 370 के तहत मिलने वाले सभी विशेषाधिकार को वापस ले लिया है। मोदी सरकार के इस कदम को ऐतिहासिक माना जा रहा है। कांग्रेस को छोड़कर विपक्ष की कई पार्टियां इस फैसले के समर्थन में हैं, तो वहीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) इसे अपने संकल्प का फैसला बता रही है।

पूर्व उप प्रधानमंत्री और भाजपा के लौहपुरुष कहे जाने वाले लालकृष्ण आडवाणी ने भी मोदी सरकार को इस फैसले पर बधाई है। जम्मू कश्मीर में अलग झंडे लेकर समय-समय पर चर्चाएं होती रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2015 में कश्मीर दौरे पर भी यह मामला चर्चा में आया था। उस समय जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री के रूप में मुफ्ती मुहम्मद सईद शपथ ले रहे थे।

गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि कश्मीर में लागू धारा 370 में सिर्फ खंड-1 रहेगा, बाकी प्रावधानों को हटा दिया जाएगा। जिसके चलते जम्मू कश्मीर में अब अलग झंडे को फहराने का विधान भी समाप्त हो जाएगा।

दरअसल, आर्टिकल -370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में हुए कई बदलावों के साथ एक यह भी है कि अब वहां सिर्फ तिरंगा अकेले लहराएगा। जबकि अब तक यहां अलग झंडा और अलग संविधान चलता रहा था जिसमें अब जाकर परिवर्तनं किया गया है।

गौरतलब है कि सोमवार सुबह मोदी कैबिनेट की बैठक में इस फैसले को लिया गया, जिसके बाद संसद के पटल पर गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के द्वारा मंजूर अधिसूचना को रखा। इसी के साथ ही साफ किया गया कि जम्मू-कश्मीर अब केंद्र शासित प्रदेश है और साथ ही लद्दाख एक अलग राज्य बन गया है।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 खत्म होने पर देश के कई हिस्सों में जश्न मनाया जा रहा है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भी अपने आवास पर मिठाई बांटी है।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटते ही टेलीविजन पर राम का किरदार निभाने वाले एक्टर गुरमीत चौधरी ने किया ट्वीट, लिखा- कश्मीर में घर खरीदूंगा, बिजनेस करूंगा…

महमूदा मुफ्ती ने कहा अनुच्छेद 370 असंवैधानिक, अमित शाह ने कहा कि हमें वोट बैंक नहीं बनाना, अनुच्छेद 370 हटाने का दिन आ गया, इतने साल क्यों रहा अनुच्छेद 370

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here