पश्चिम बंगाल में अमित शाह रोड शो हिंसा मामले पर बीजेपी ने जंतर-मंतर पर मौन रहकर जताया रोष

0
139

दिल्ली, भारतीय जनता पार्टी ने कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन किया, अमित शाह के रोड में हिंसा का मामला तूल पकडे हुए है और दिल्ली में इसको लेकर बीजेपी पार्टी हमलावर है इसके विरोध में बीजेपी ने जंतर मंतर पर मौन रहकर विरोध दर्ज कराया। इस दौरान बीजेपी नेताओं ने सेव बंगाल सेव डेमक्रेसी, बंगाल बचाओ लोकतंत्र बचाओ जैसे स्लोगन लिखी तख्तियां लिए हुए थे। इस प्रदर्शन में केद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, जितेंद्र सिंह और विजय गोयल के अलावा तमाम बीजेपी कार्रकर्ता मौजूद रहे।

गौरतलब है कि मंगलवार को अमित शाह जब रोड शो कर रहे थे तो उन्होंने जय श्रीराम का नारा लगाया और रोड शो आगे बढ़ता गया। लेकिन उस सफर में एक ऐसा दृश्य भी सामने आया जिससे हर कोई हतप्रभ था। कोलकाता विश्वविद्यालय के छात्र और बीजेपी कार्यकर्ताओं में झड़प हुई जिसमें गाड़ियों को भी जला दिया गया।

इससे पहले इस मामले को लेकर अमित शाह ने दिल्ली में एक प्रेस कांफ्रेस करके इस बारे में विस्तार से बताया अमित शाह ने कहा- मैं ममता जी को बताना चाहता हूं कि आप सिर्फ 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं और भाजपा देश के सभी राज्यों में चुनाव लड़ रही है । मगर कहीं पर भी हिंसा नहीं हुई, लेकिन बंगाल में हर चरण में हिंसा हुई इसका साफ़ मतलब है कि हिंसा तृणमूल कॉग्रेस कर रही है।

अमित शाह ने कहा- मुझ पर एफआईआर दर्ज की गई है। ममता दीदी आपकी एफआईआर से हम भाजपा वाले नहीं डरते। हमारे 60 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की जान आपके गुंडों ने ले ली है फिर भी हमने अपना अभियान नहीं रोका है। अब बंगाल की जनता ममता जी को हटाने का मन बना चुकी है और मैं पूरी तरह आश्वस्त हूं कि इस बार बंगाल में भाजपा 23 से अधिक सीटें जीतने जा रही है।

मैंने बंगाल की जनता के आक्रोश को देखा है, जैसी स्थिति वहां ममता दीदी ने बनाई है उसे जनता स्वीकार नहीं कर सकती।अमित शाह ने कहा कि कोलकाता रोड शो के दौरान बीजेपी को मिले समर्थन की वजह से टीएमसी हताशा में आ गई। उसका असर ये हुआ कि टीएमसी के गुंडों ने कोलकाता में जमकर बवाल किया। कोलकाता की सड़कों पर बवाल के बीच जिस तरह से बीजेपी कार्यकर्ताओं ने संयम का परिचय दिया उसके लिए वो सराहना के पात्र हैं।

इस तरह के नजारे के बीच अमित शाह को रोड शो को स्थगित करना पड़ा था। उन्होंने कहा कि उन्हें मलाल है कि वो ममता बनर्जी की तानाशाही व्यवस्था के खिलाफ अपनी बात नहीं रख सके। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में क्या कुछ हो रहा है वो सबकुछ देश और दुनिया के सामने है। उन्हें भरोसा है कि देश की जनता इसे देख रही है और पश्चिम बंगाल की जनता ममता बनर्जी को जरूर जवाब देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here