वर्ल्ड कप : आखिर क्यों कोच रवि शास्त्री पर भड़के थे विराट ?

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल में टीम इंडिया की पारी के दौरान विराट कोहली कोच रवि शास्त्री पर भड़क गए थे? क्या कप्तान विराट रिषभ पंत के प्रदर्शन से खुश नहीं थे? ये वो सवाल है जिसका जवाब हर क्रिकेटप्रेमी जानना चाह रहा है. दरअसल, बुधवार को जब सेमीफाइनल में पंत आउट हुए, तो इसके बाद टिवी स्क्रीन पर विराट और शास्त्री बातचीत करते हुए नज़र आए. ऐसा लग रहा था कि कप्तान पंत के आउट होने के तरीके से नाराज़ थे. लेकिन अब विराट कोहली ने इस पर अपनी सफाई दी है. उन्होंने कहा कि वो शास्त्री से किसी और मुद्दे पर बात कर रहे थे.

0
113

कल टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली ड्रेसिंग रूम के अंदर से तेजी से निकले और बाहर गए. वहां बैठे मुख्‍य कोच रवि शास्‍त्री से वे गुस्‍से से बात करते नजर आए

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल में टीम इंडिया की पारी के दौरान विराट कोहली कोच रवि शास्त्री पर भड़क गए थे? क्या कप्तान विराट रिषभ पंत के प्रदर्शन से खुश नहीं थे? ये वो सवाल है जिसका जवाब हर क्रिकेटप्रेमी जानना चाह रहा है. दरअसल, बुधवार को जब सेमीफाइनल में पंत आउट हुए, तो इसके बाद टिवी स्क्रीन पर विराट और शास्त्री बातचीत करते हुए नज़र आए. ऐसा लग रहा था कि कप्तान पंत के आउट होने के तरीके से नाराज़ थे. लेकिन अब विराट कोहली ने इस पर अपनी सफाई दी है. उन्होंने कहा कि वो शास्त्री से किसी और मुद्दे पर बात कर रहे थे.

मैच के बाद विराट कोहली से प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूछा गया कि आखिर वो क्यों नाराज थे और शास्त्री से क्या बातचीत कर रहे थे. विराट ने कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं था. वो शास्त्री से ये बता रहे थे कि इस तरह के चेज़ में टीम को मिनी टारगेट ध्यान में रखना चाहिए. पंत के बारे में विराट ने कहा कि वो फिलहाल युवा हैं और उन्हें अपनी गलती का एहसास हो गया है.

क्या हुआ था शास्त्री और विराट में?
कल टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली काफी खफा नजर आए थे. वे ड्रेसिंग रूम के अंदर से तेजी से निकले और बाहर गए. वहां बैठे मुख्‍य कोच रवि शास्‍त्री से वे गुस्‍से से बात करते नजर आए. माना जा रहा था कि वे पंत के आउट होने के तरीके पर बात कर रहे थे.


रिषभ पंत को न्‍यूजीलैंड के स्पिनर मिचेल सेंटनर ने आउट किया. भारतीय पारी का 22वां ओवर सेंटनर ने किया. उन्‍होंने पंत के सामने पहली चार गेंद डॉट डाली. इससे पंत थोड़े से परेशान दिखे. उन्‍होंने पांचवीं गेंद को उठाकर मारने का प्रयास किया. लेकिन गेंद  कोलिन डी ग्रैंडहोम के पास गई. उन्‍होंने बड़े आराम से कैच लपक लिया और पंत की पारी का अंत कर दिया. पंत 56 गेंदों का सामना कर चुके थे और क्रीज पर सेट लग रहे थे. लेकिन उन्‍होंने संयम गंवाकर अपना विकेट गंवाया. इसे देखकर क्रिकेट के जानकारों ने भी सवाल उठाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here